हरिद्वार में जहरीली शराब पीने से हुई 34 मौतों के बाद पुलिस प्रशासन जाग गया है औऱ लगातार छापेमारी कर रहा है. वहीं इसी क्रम में लक्सर में कच्ची शराब पकड़े जाने का सिलसिला जारी है. वहीं लक्सर पुलिस ने छापेमारी कर आज फिर कच्ची शराब के साथ चार आरोपियों को धर दबोचा. चारों आरोपियों से करीब 22 लीटर कच्ची शराब और 25 पव्वे देशी शराब पकड़े गए  हैं. अभी हाल ही में हरिद्वार जिले में कई गावों में जहरीली शराब पीने से 34 व्यक्तियों की मौतें हुई औऱ कर्मचारियों पर निलंबन की कार्रवाही भी लेकिन शराब माफियाओं पर शायद इस त्रासदी का कोई असर नहीं पड़ा.

शराब माफियाओं में इतनी बड़ी घटना से भी कोई प्रभाव नहीं पड़ा है. शराब माफिया लगातार कच्ची शराब बनाने और बेचने में लगे हुए हैं. एक और शराब से हुई इस त्रासदी से प्रशासन के हाथ पैर फूल गए और सरकारी तक हिल गई. उसके पास भी शराब माफियाओं के ऊपर इसका कोई असर देखने को नहीं मिल रहा है. लक्सर प्रशासन शराब माफियाओं के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रहा है. पिछले 2 दिनों में लक्सर पुलिस ने कार्रवाई कर शराब माफियाओं को जेल भेज दिया.

वहीं लक्सर आबकारी विभाग ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की. लक्सर कोतवाल वीरेंद्र सिंह नेगी का कहना है कि लक्सर पुलिस प्रशासन शराब माफिया को किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं करेगा. इसके लिए भले ही रात दिन मेहनत करनी पड़े लेकिन किसी भी शराब माफिया को बख्शा नहीं जाएगा और छापेमारी की कार्रवाई लगातार की जाती रहेगी पिछले 2 दिनों में हमारे द्वारा 6 माफियाओं को जेल भेजा जा चुका है और इस तरह की कार्रवाई लगातार जारी रहेगी





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top