वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को कहा कि मोदी सरकार ने अतीत के नीतिगत पक्षाघात की स्थिति से देश को बाहर निकाला है और देश की छवि को दोबारा बहाल किया है और भारत को दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में तब्दील कर दिया है.

गोयल ने 2019 के लिए अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा कि सरकार ने मुद्रास्फीति को मात दी है, जो कि दिसंबर में गिरकर 2.9 फीसदी रही और पूरे साल में औसत 4.6 फीसदी रही, जोकि कि किसी भी पिछली सरकार की तुलना में सबसे कम है.

उन्होंने कहा, अगर हमने मुद्रास्फीति पर काबू नहीं पाया होता, तो परिवारों को अपना 30 से 40 फीसदी खर्च भोजन, आवास और अन्य चीजों पर करना पड़ता.

गोयल ने यह भी कहा कि भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है और इस सरकार द्वारा प्राप्त किया गया विकास दर साल 1991 में लागू किए गए आर्थिक सुधार के बाद से किसी भी पिछली सरकार से अधिक है.

उन्होंने कहा, हम अब दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं, जबकि अतीत में 11 वीं अर्थव्यवस्था रहे थे. पिछले पांच सालों में अभूतपूर्व संरचनात्मक सुधारों के कारण यह प्राप्त हुआ है, जिसमें वस्तु एवं सेवा कर की प्रमुख भूमिका है.

उन्होंने सत्ता पक्ष के सदस्यों द्वारा मेज थपथपाकर स्वागत करने और विपक्षी सदस्यों के उपहास के बीच कहा, भारत वापस पटरी पर लौट आया है. हमने टिकाऊ विकास और बेहतर जीवन की आधारशिला तैयार कर दी है. हम 2022 तक नए भारत को साकार करने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top