रविवार को विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज आपसी हितों के विभिन्न क्षेत्रों में सामरिक साझेदारी को सुदृढ़ करने के लिए अफ्रीकी देश मोरक्‍को पहुंची. सुषमा स्वराज ने भारतीय समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाकात की. उस दौरान मोरक्‍को के एक स्थानीय गायक नस्र मेगरी ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के समक्ष महात्‍मा गांधी का विख्यात भजन ‘वैष्‍णव जन तो तेने कहिए’ गाया.

इस दौरान सुषमा स्‍वराज ने कहा है कि, ”यह मेरी पहली मोरक्‍को यात्रा है. मैं भारी दिल के साथ यहाँ आई हूं. मैं 16 तारीख को मैं विदेश यात्रा के लिए निकली और 14 तारीख को हमारे 44 जवान पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गए हैं. सभी राजदूत यह सोच रहे थे कि मैं यह यात्रा रद्द कर दूंगी. मैंने भी यही सोचा था कि मुझे यह यात्रा रद्द कर देनी चाहिए.

सुषमा स्वराज ने आगे कहा कि मैंने जब ये बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताई तो उन्‍होंने जो कहा, वो बात मैं आपसे साझा करना चाहती हूं. उन्‍होंने मुझसे कहा कि, ”मोरक्‍को हमेशा आतंकवाद के विरुद्ध खड़ा हुआ है. आतंकवाद पर लगाम लगाने के लिए वो हमारे साथ समझौता करने जा रहा है. वह रेडिकलाइजेशन के विरुद्ध लड़ रहा है. इस वजह से कृपया वहां जाइए. उनसे सहमति व्यक्त करते हुए, मैं यहां आई हूँ.”

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘विदेश मंत्री सुषमा स्वराज मोरक्को के रबात पहुंची। यह उनकी देश की पहली यात्रा है. विदेश मंत्री अपनी इस संक्षिप्त यात्रा के दौरान मोरक्को के अपने समकक्ष नासर बोरीटा तथा राजनीतिक नेतृत्व से मुलाकात करेंगी. हम विभिन्न क्षेत्रों में अपने संबंधों को मजबूत बनाने को प्राथमिकता दे रहे हैं.’’

इससे पहले शनिवार को स्वराज ने बुल्गारिया के अपने समकक्ष ईकातेरिना जाहारिएवा से मुलाकात की थी और दोनों नेताओं ने अर्थव्यवस्था, कृषि तथा स्वास्थ्य जैसे क्षेत्रों सहित अनेक द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की थी. मोरक्को में वह अपने समकक्ष नासर बोरीटा के अलावा मोरक्को के शाह मोहम्मद षष्टम, प्रधानमंत्री साद दीन अल ओटमानी तथा हाउस ऑफ रीप्रजेंटेटिव्स के स्पीकर हबीब अल मल्की से मुलाकात करेंगी.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करके कहा कि इस यात्रा में दोनों देशों के बीच आतंकवाद विरोधी, आवास एवं मानव बस्तियों तथा युवा मामलों के क्षेत्र में तीन एमओयू पर हस्ताक्षर होने की संभवना है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top