शनिवार को पीएम मोदी ने अरुणाचल प्रदेश के अपने एक दिवसीय दौरे के दौरान दो हवाईअड्डों, एक सुरंग और एक फिल्म संस्थान सहित कई विकास परियोजनाओं का उद्धघाटन किया. यहां पहुंचने के बाद मोदी ने होल्लोंगी में ग्रीनफील्ड हवाईअड्डे, सेला सुरंग और भारतीय फिल्म एवं टेलिविजन संस्थान (एफटीआईआई) के स्थायी कैंपस के निर्माण की आधारशिला रखी.

उन्होंने अरुणाचल प्रदेश के लिए समर्पित दूरदर्शन चैनल डीडी अरुणा प्रभा को भी लॉन्च किया और 110 मेगावॉट पारे पनबिजली संयंत्र के साथ उन्नत तेजू हवाईअड्डा और पहाड़ी राज्य में 10 स्वास्थ्य एवं कल्याण केंद्रों का उद्धघाटन किया.

मोदी ने यहां आईजी पार्क में एक विशाल रैली को संबोधित किया और लोगों से केंद्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत सरकार द्वारा पिछले साढ़े चार साल में पूर्वोत्तर में किए कार्यो की तुलना पिछले 55 वषों से करने का आग्रह किया. मोदी ने कहा, “सत्ता में आने के बाद हमारी सरकार ने विकासात्मक कार्यो की शुरुआत की. मेरा मानना है कि हम पूर्वोत्तर क्षेत्र का विकास कर एक मजबूत व बेहतर भारत का निर्माण कर सकते हैं.” उन्होंने कहा कि केंद्र ने अरुणाचल प्रदेश के लिए पहले ही 44 हजार करोड़ रुपये को मंजूरी दे दी है.

उन्होंने कहा, “मैं आज दो हवाईअड्डों का उद्धघाटन कर खुश हूं. ऐसा अरुणाचल प्रदेश के इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ कि एक दिन में दो हवाईअड्डों का उद्धघाटन हुआ हो.” मोदी ने कहा, “दो हवाईअड्डे राज्य में और अधिक पर्यटक लाने में मददगार साबित होंगे और युवाओं के लिए रोजगार अवसरों में मदद करेंगे.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “हवाईअड्डों की गैरमौजूदगी में अरुणाचल प्रदेश के लोगों को सड़क से गुवाहाटी जाना पड़ता था. यह हवाईअड्डे राज्य के लोगों को सीधी उड़ान सेवा मुहैया कराएंगे.”उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने रेल लाइन विस्तार के लिए सात सर्वे को भी मंजूरी दी है, जिसमें से तीन पूरे हो चुके हैं. मोदी ने कहा कि केंद्र ने 850 मेगावॉट ऊर्जा पैदा करने वाली परियोजना को भी मंजूरी दी है, जिससे क्षेत्र को फायदा होगा.

मोदी शुक्रवार शाम को गुवाहाटी पहुंचे थे. हवाईअड्डे से राजभवन की ओर जाते हुए उन्हें नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों ने काले झंड़े दिखाए थे. शनिवार सुबह राजभवन से निकलने के बाद जब मोदी अरुणाचल प्रदेश के लिए रवाना हो रहे थे तो एक छात्र समूह ने फिर से प्रधानमंत्री को काले झंड़े दिखाए.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top