हल्द्वानी में पिछले 6 दिनों से गौला नदी के हजारों वाहन स्वामियो और क्रेशर स्वामियों के बीच चल रहा विवाद अब समाप्त हो गया है। वाहन स्वामियों ने गौला नदी से रेता बजरी ढुलान भाड़ा 16 रूपये प्रति कुंटल कम करने का विरोध करते हुए नदी के सभी 11 खनन निकासी गेटों को बंद करा दिया था।

6 दिन तक दोनों पक्षों में गतिरोध और हड़ताल चलने के बाद लालकुआ विधायक नवीन दुम्का की मध्यस्थता में वाहन स्वामियों और क्रेशर स्वामियों के बीच वार्ता हुई। क्रेशर स्वामियों द्वारा ढाई रुपए प्रति कुंटल भाड़ा बढ़ाने के आश्वासन के बाद वाहन स्वामियों ने अपनी हड़ताल वापस लेने का निणर्य लिया है।

गौरतलब है की हड़ताल से सरकार को भी पिछले 6 दिनों में करोड़ों के राजस्व का नुकसान हुआ है वाहन स्वामियों और क्रेशर स्वामियों के बीच हुई तकरार के चलते गौला नदी के सात हजार वाहन स्वामी और नंधौर नदी के ढाई हजार वाहन स्वामी अपनी गाड़ियों को खड़ा कर क्रेशर स्वामियों के विरोध में सड़कों पर उतर गए थे।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top