जम्मू कश्मीर पुलवामा के पास अवंतीपुरा में बड़े आतंकी हमले की खबर सामने आई है जिसमें अब तक 28 जवानों के शहीद होने की खबर है. ये हमला उरी हमले के बाद और 2019 का अब तक का सबसे बड़ा हमला है. जैश ए मोहम्मद के एक स्थानीय आत्मघाती आदिल अहमद उर्फ वकास ने कार बम से बस को उड़ा दिया. जिसमे 28 जवान शहीद हो गए, 36 घायल हैं। जिसमें सीएम त्रिवेंद्र रावत ने शोक व्यक्त किया है औऱ इस हमले को कायराना हरकत कहा.

सीएम ने की सोशल मीडिया पर ये पोस्ट

कश्मीर के अवंतीपुरा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला कायराना हरकत है। जवानों की शहादत को कोटि कोटि नमन करता हूं। दुःख की घड़ी में सभी देशवासी अपने जवानों व उनके परिजनों के साथ खड़े हैं। यह पूरे देश को एकजुट होकर आतंक को कड़ा जवाब देने का समय है।

अवंतीपुरा में आतंकियों ने फिदायीन हमला, 28 जवान शहीद

आपको बता दें जम्मू से श्रीनगर जा रही सीआरपीएफ की 70 गाड़ियों के काफिले पर कश्मीर के पुलवामा के पास अवंतीपुरा में आतंकियों ने फिदायीन हमला कर दिया। जैश ए मोहम्मद के एक स्थानीय आत्मघाती आदिल अहमद उर्फ वकास ने कार बम से बस को उड़ा दिया. जिसमे 28 जवान शहीद हो गए, 36 घायल हैं। इस काफिले में 2500 जवान शामिल थे। जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली है। जैश के आतंकी आदिल अहमद उर्फ वकास कमांडो ने दोपहर 3:15 बजे यह फिदायीन हमला किया। उसने एक गाड़ी में विस्फोटक भर रखे थे। जो की अचानक ब्लास्ट हुआ और 28 जवान शहीद हो गई. जवानों के चीथड़े-चीथड़े उड गए.

सरकार आई हरकत में

पुलवामा हमले को लेकर सरकार भी हरकत में आ गई है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने डीजी सीआरपीएफ आरआर भटनागर व जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक से बात की है। राजनाथ शुक्रवार को श्रीनगर जाएंगे।   विस्फोट में तीन अन्य वाहनों को भी क्षति पहुंची है। सभी घायल जवानों को उपचार के लिए बादामी बाग सैन्य छावनी स्थित सेना के 92 बेस अस्पताल में दाखिल कराया गया है। आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top