देहरादून : पुलवामा हमले में देश के 40 जवान शहीद हो गए जिसमें उत्तराखंड के भी दो जवान शामिल थे. वहीं देश और उत्तराखंड वासी अभी पुलवामा हमले से उभरे नहीं थे कि फिर मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत की खबर आ गई जिससे जानकर एक बार फिर से उत्तराखंडवासियों की आंखें नम हो गई है.

वहीं देहरादून में पुलिस अलर्ट पर है. दरअसल बीते दिनों देहरादून के शिक्षण संस्थान में पढ़ने वाले कश्मीरी छात्र द्वारा शहीदों औऱ सैनिकों के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की गई थी. जिसको लेकर खूब बवाल हुआ और पुलिस को अलर्ट किया गया. इसका असर उत्तराखंड की शांत वादियों में पड़ा. एक तरफ शहीदों के शवों का आने का सिलसिला थम नहीं रहा है तो वहीं दूसरी तरफ कश्मीरी छात्रों की नारेबाजी ने नया बवाल खड़ा कर दिया है.

कई सेना के अफसर देहरादून IMA  से पास होकर कर रहे हैं देश की रक्षा

आपको बता दें राज्य के कई शैक्षणिक संस्थानों में कई कश्मीरी छात्र-छात्राएं पढ़ाई कर रहे हैं. लेकिन इन दिनो जनता में इन छात्रों को लेकर गुस्सा है औऱ इन्हें राज्य से बाहर निकालने की मांग कर रहे हैं. साथ ही कुछ कश्मीरी छात्रों के अभद्र पोस्ट और टिप्पणी से हर एक कश्मीरी छात्र लोगों के नजर में आ गया है जिसे लेकर जनता में उबाल है और जनता नें कार्रवाही की मांग की है साथ ही कश्मीरी छात्रों को बाहर करने की मांग की है. लेकिन हर कश्मीरी को गलत नजर से देखना गलत है क्यों कि देश के कई सेना के अफसर देहरादून IMA से पास आऊट होकर देश की रक्षा कर रहे हैं.

डीजी की अपील

वहीं डीजी ने सौहार्द न बिगाड़ने की अपील की है और साथ ही कोई भी के इस मुहीम को कानून अपने हाथ में न लेने की सलाह दी है। साथ ही सोशल मीडिया पर ऐसी भी किसी भी पोस्ट को शेयर न करने की अपील की है जिससे अपवाहें न फैलें और राज्य का माहौल खराब न हो और शांति बनी रहे.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top