पूर्व मंत्री और सपा नेता आजम खां के खिलाफ धार्मिक भावनाएं आहत करने की एफआइआर लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली में दर्ज करायी गई है. यह रिपोर्ट लेखक व आलोचक अल्लामा जमीर नकवी की तहरीर पर दर्ज की गई है. उनका आरोप है कि पूर्व मंत्री ने मौलाना सैय्यद कल्बे जव्वाद नकवी और आरएसएस के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. पूर्व मंत्री की अभद्र टिप्पणी से उनकी और समाज की भावनाएं आहत हुई हैं.

चौक के बरौरा हुसैनबाड़ी निवासी अल्लामा जमीर नकवी का आरोप है कि वर्ष 2014 से वह पूर्व मंत्री के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन सपा सरकार के दबाव में पुलिस ने उनकी सुनवाई नहीं की. अल्लामा जमीर नकवी के अनुसार अगस्त 2014 में सरकारी लेटर पैड व मुहर का दुरुपयोग करके शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद, आरएसएस तथा भाजपा का अपमान किया गया था. आरोपी सपा नेता ने पत्र जारी कर अभद्र भाषाओं का इस्तेमाल किया था.

इससे मौलाना की छवि को ठेस पहुंची. यही नहीं आरोप है कि पूर्व मंत्री के इस कृत्य ने दो समुदाय के बीच नफरत फैलाने का भी काम किया था. इंस्पेक्टर हजरतगंज राधा रमण सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज करके छानबीन की जा रही है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top