हेग : वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे ने पाकिस्तानी सेना पर एशिया उपमहाद्वीप में आतंक में शामिल होने का आरोप लगाते हुए और पाक के आरोपों की धज्जियां उड़ाते हुए कहा कि जाधव को एक साजिश के तहत फंसाया गया है। उन्होंने कहा पाक के पास जाधव के खिलाफ कोई सबूत नहीं है। जिससे यह साबित किया जा सके कि जाधव भारत की ओर से जासूसी कर रहे थे।

गौरतलब हो कि जाधव लंबे समय से पाकिस्तानी जेल में बंद हैं तथा पाकिस्तानी कोर्ट की ओर से सजा सुनाई जा चुकी है। भारत की ओर से जाधव को बचाने के लिए नामी वकील हरीश साल्वे आगे आए और उन्होंने एक रु बतौर फीस लेकर यह केस लडने का ऐलान कर सबका दिल जीत लिया। यह अपनी तरह की देशभक्ति है, साल्वे के इस कदम ने देश से प्रेम करने वालों का दिल जीत लिया।

पाक की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को रिहा कराने के लिए भारत के जाने माने वकील हरीश साल्वे ने गुरुवार को तीसरे दिन भी इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टीस के समक्ष भारत के पक्ष में दलील पेश की। जाधव के जासूस होने के पाकिस्तानी दावे को खारिज करते हुए साल्वे ने इंटरनेशनल कोर्ट की खुली सुनवाई में कहा कि पाक का दावा झूठा, हास्यास्पद, अहंकार व बेहूदा है।

साल्वे ने पाकिस्तान को दुनिया के सामने बेनकाब करते हुए कहा कि पाकिस्तान जाधव केस का उपयोग अपने राजनीतिक लाभ के लिए कर रहा है। पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर आतंकी हमले से बचने के लिए पाक अब इस मामले को उछाल रहा है। जाधव को माफी देकर अब उसे भारत भेज दिया जाना चाहिए।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top