स्थाई निवास प्रमाण पत्र (PRC)के मुद्दे पर अरुणाचल प्रदेश सुलग उठा है. कई आदिवासी संगठनों ने इस दौरान उपद्रव किया है. विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। इस दौरान एक शख्स की मौत भी हो गई।”,

शनिवार को 6 आदिवासी समुदायों को स्थायी निवासी प्रमाण पत्र देने का प्रस्तान के खिलाफ बुलाए गए बंद के दौरान राज्य के कुछ हिस्सों में लोग सड़क पर उतर आए। लोगों ने जमकर विरोध हालांकि इस दौरान पुलिस की गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। विरोध के दौरान हुई मौत पर कई राजनेताओं ने भी ट्वीट किया है। बता दें कि प्रदेश के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं इंटरनेट सेवा को भी बंद किया गया है.

क्या है पूरा मामला:

दरअसल शनिवार को प्रदर्शकारियों ने गैर-अरुणचालियों को स्थायी निवास प्रमाण पत्र (पीआरसी) देने के लिए सरकार द्वारा नियुक्त पैनल की सिफारिशों में बदलाव की मांग करते हुए ईटानगर में सिविल सचिवालय में प्रवेश की कोशिश की। इस दौरान प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने रोकने की कोशिश की। इस दौरान उग्र होते प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस को फायरिंग भी करनी पड़ी। हालांकि इस दौरान एक गोली एक शख्स को भी लग गई जिसमें उसकी मौत हो गई। वहीं पुलिस ने 21 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है।

पुलिस की गोली से हुई शख्स की मौत पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए शोक व्यक्त किया। राहुल ने लिखा कि ईटानगर में पुलिस की गोलीबारी में एक निर्दोष की मौत का सुनकर बहुत दुख हुआ। वहीं कई लोग घायल भी हुए। मैं प्रार्थना करता हूं कि अरुणाचल प्रदेश में शांति जल्द लौट आए।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top