देहरादून : जो उम्र बच्चों के पढ़ने-लिखने की होती है आज के समय में बच्चे ऐसे कामों और ऐसे दलदल में फंसे जा रहे हैं जिससे उनका भविष्य तो बर्बाद हो ही रहा है साथ ही माता-पिता का नाम और उनके अरमानों पर भी पानी फेरने का काम बच्चे कर रहे हैं. और इसमे लड़किया भी पीछे नहीं है. बच्चों की नादानी इस कदर हावी हो जाती है कि सड़क क्या, स्कूल क्या, बीच बाजार क्या कुछ नहीं दिखता.

मामला लड़के के साथ दोस्ती का है

जी हां ऐसा ही हुआ है देहरादून के पटेलनगर स्थित एसजीआरआर स्कूल के बाहर एक ही क्लास की छात्राएं जा भिड़ी औऱ एक दूसरे को जमकर कूटा. और तो और कूटने के लिए लड़कियों के गैंग को भी बुलाया. मामला लड़के के साथ दोस्ती का है. बीच सड़क में स्कूल के बाहर इस तरीके की लड़ाई से स्कूल प्रबंधन का नाम तो खराब हो ही रहा है साथ ही छात्रा और उनके परिवार वालों का नाम भी खराब होता है.

 ये है मामला, पुलिस भी नहीं छुड़ा पाई छात्राओं को

दरअसल सोमवार को स्‍कूल की छुट्टी के बाद लड़का और एक लड़की स्कूल से एक साथ बाहर आए…जिसके बाद उसी कक्षा में पढ़ने वाली दूसरी छात्रा ये देख आग बबूला हो गयी और उस छात्रा से जा भिड़ी. ये लड़ाई सिर्फ दो के बीच नहीं हुई बल्कि दोनों के पक्ष में उनकी अन्‍य दोस्‍त भी झगड़े में उतर गईं। दोनों गुंटो में बीच सड़क में स्कूल के बार जमकर मारपीट हुई। वहीं इस के बाद दो महिला कांस्‍टेबल भी मौके पर पहुंची, वो भी उन्हें छुड़ा नहीं पाई. कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने काबू पया.

हर चौथे दिन यही हाल

आपको बता दें ये पहली दफा नहीं है जब एसजीआरआर की छात्राएं  इस कदर बीच सड़क में लड़ी हों. इस तरीके के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं जिस पर स्कूल प्रबंधन लगाम लगाने में नाकामयाब है….जिससे इस स्कूल के छात्र-छात्राएं पढ़ने वाले विद्यार्थी कम और अखाड़े में लड़ने वाले ज्यादा लगते हैं. हर चौथे दिन एसजीआरआर स्कूल के छात्र-छात्राओं के झगड़े के ऐसे मामले सामने आते रहते हैं.

वहीं चौकी बाजार प्रभारी विपिन त्यागी का कहना है कि स्‍कूल की एक ही क्‍लास की दो छात्राओं में लड़के से दोस्‍ती को लेकर झगड़ा चल रहा है। छात्राओं ने दूसरी छात्रा पर हमला कर दिया।बाजार चौकी से पुलिस भी मौके पर पहुंची, बीच बचाव की कोशिश की गई।काफी देर मारपीट के बाद लड़कियां एक एक एक कर मौके से फरार हो गई।ओर अभी तक इस मामले में लिखित शिकायत नही आई





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top