नोएडा के निठारी गांव में महिलाओं के साथ दुष्कर्म और हत्या के नौ मामलों में मौत की सजा पा चुके सुरेंद्र कोली को शनिवार को दुष्कर्म और हत्या के दसवें मामले में भी सजा-ए-मौत सुनाई गई. यहां केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत ने नोएडा के उद्योगपति मोनिंदर सिंह पंधेर के नौकर कोली के खिलाफ सजा सुनाई.

2005-06 में 16 लड़कियों की दुष्कर्म के बाद हत्या तथा कुछ मामलों में नरभक्षण के दोषी कोली को इससे पहले नौ मामलों में मौत की सजा सुनाई जा चुकी है. तीन मामलों में पंधेर भी आरोपी था और उसे मौत की सजा सुनाई गई थी लेकिन इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने एक मामले में उसे बरी कर दिया.

दिसंबर 2006 में नोएडा के निठारी गांव में पंधेर के घर के पीछे नाले से मानव-अवशेष मिलने पर जघन्य हत्याओं का यह मामला प्रकाश में आया था.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top