शनिवार को पीएम मोदी ने दिल्ली में आयोजित ‘कंस्ट्रक्शन टेक्नोलॉजी इंडिया 2019’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हिंदुस्तान जो करेगा, दुनिया उसे गौर से देखती है. इस देश की ताकत है कि डिक्शनरी के शब्दों को बदल देते हैं. कभी अभिनंदन का अंग्रेजी में होता था कांग्रेचुलेशन, अब अभिनंदन का अर्थ बदल गया है.

इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि मध्यम वर्ग के लिए अपने घर के सपनों को पूरा करने के लिए हम गंभीर हैं. आज हमारी सरकार के प्रयासों का असर है कि होम लोन पर ब्याज दर पहले के मुकाबले कम हुई है. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सरकार जो छूट दे रही है उसके बाद लोगों को 5-6 लाख रूपये की बचत हो रही है.हमारी सरकार ने सबसे ज्यादा जोर किफायती घरों पर दिया है.

रियर एस्टेट सेक्टर से जुड़े कानूनों को ठीक किया है, हमने स्किल डेवलपमेंट पर ध्यान दिया है और इसके साथ ही हमने हाउसिंग सेक्टर में तकनीक के इस्तेमाल में भी काम किया है. पीएम मोदी ने आगे कहा कि हमारी सरकार ने हाउसिंग सेक्टर की शक्ल बदलने के लिए सात फ्लैगशिप मिशन पर एक साथ काम किया है. स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, दीनदयाल अंत्योदय योजना, नेशनल अर्बन लाइवलीहुड मिशन और अमृत योजना जैसे महत्वपूर्ण कार्यक्रम लागू किए गए हैं.

लोगों के अपने घर का सपना पूरा करने के लिए हम टेक्नोलॉजी के साथ-साथ दूसरी व्यवस्थाओं को भी बदल रहे हैं. टैक्स से जुड़े नियमों में बदलाव कर रहे हैं. ये इसलिए किया जा रहा है, जिससे मध्यम वर्ग के पास घर खरीदने के लिए ज्यादा पैसा बचे और घर की कीमतें भी कम हों. जीएसटी को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि जीएसटी ने भी रियल एस्टेट के कारोबार को ग्राहकों और खरीदारों दोनों के लिए आसान किया है.

हाल में कंस्ट्रक्शन सेक्टर पर जीएसटी को कम किया गया है. किफायती घरों पर जीएसटी 8 प्रतिशत से घटाकर एक प्रतिशत किया गया है. फंडिंग के साथ-साथ देश के इतिहास में पहली बार हाउसिंग सेक्टर और रियल एस्टेट सेक्टर को स्पष्ट कानूनों का सहारा मिल सके, इसके लिए भी हम काम कर रहे हैं. रेरा (RERA) से इस सेक्टर में पारदर्शिता आई है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top