इस्लामाबाद|… पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देशवासियों के सोशल मीडिया पर भारत के साथ तनाव को कम करने के लिए उन्हें नोबेल शांति पुरस्कार दिए जाने की मांग करने पर सोमवार को कहा कि वह इस सम्मान के योग्य नहीं हैं. इमरान ने ट्वीट किया, मैं नोबेल शांति पुरस्कार के योग्य नहीं हूं. इसके लिए वही व्यक्ति योग्य होगा, जो कश्मीरी लोगों की इच्छाओं के अनुरूप कश्मीर के विवाद का हल करेगा और उपमहाद्वीप में शांति व मानवता का मार्ग प्रशस्त करेगा.

भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की रिहाई की घोषणा के बाद से इमरान खान को नोबेल शांति पुरस्कार दिए जाने के लिए इमरान प्रशासन के अधिकारियों व समर्थकों ने लॉबिग करनी शुरू कर दी. अभिनंदन को पाकिस्तानी क्षेत्र में उनके मिग-21 के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद 27 फरवरी को बंधक बना लिया गया था. अभिनंदन को एक मार्च को रिहा किया गया.

भारतीय प्रशासन को पायलट अभिनंदन को सौंपे जाने के तुरंत बाद हैशटैग ‘नोबेलपीसप्राइजफॉरइमरान खान’ पाकिस्तान में ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा. इमरान खान को नोबेल दिए जाने की मांग करते हुए रविवार तक 300,000 से ज्यादा लोगों ने ऑनलाइन याचिका पर हस्ताक्षर किए हैं.

पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली सचिवालय में बीते सप्ताह इसके लिए एक प्रस्ताव भी पेश किया गया. इस प्रस्ताव में कहा गया कि इमरान खान ने भारत व पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. इस बीच पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ने पुरस्कार के लिए चल रहे प्रचार पर खेद जाहिर किया है. पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ने पहले भारतीय पायलट के छोड़े के समय पर सवाल किया था.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top