किसी ने सेना पर सवाल भले ही न उठाया हो, लेकिन योगगुरु बाबा रामदेव ने विपक्ष को पाकिस्तान समर्थक बताकर अपने पक्ष में माहौल बनाने के भाजपा के प्रयास में साथ देते हुए कहा कि “सेना पर सवाल उठाने वाले देश के साथ विश्वासघात, धोखा और गद्दारी कर रहे हैं.”

पतंजलि के एक कार्यक्रम में भाग लेने यहां पहुंचे ब्रांड के स्वामी ने मंगलवार को पत्रकारों से कहा, “वायुसेना के जवान पाकिस्तान में घुसकर आतंकवादी अड्डे को ध्वस्त किया है. इसरो सहित कई एजेंसियों ने ‘स्ट्राइक’ के दौरान उस स्थान पर 280 मोबाइल एक्टिव होने का दावा किया है. मोबाइल फोन से पेड़-पौधे तो बात नहीं ही करते हैं. इतने मोबाइल फोन एक आदमी के पास भी नहीं हो सकते.”

रामदेव ने कहा कि पूरी दुनिया जानती है कि वहां आतंकवादियों का प्रशिक्षण शिविर चलाया जा रहा था. उन्होंने कहा, “मैं किसी व्यक्ति का तो नाम नहीं लूंगा, लेकिन जो व्यक्ति ऐसी बातें कर रहा है, वह देश के साथ गद्दारी कर रहा है.”

बाबा ने ऐसे लोगों को गैर जिम्मेदाराना बयान देने से परहेज करने की सलाह देते हुए कहा, “ऐसे लोग एक तरह से देश के दुश्मनों को बोलने का मौका देते हैं और फिर हमारे ही देश को वह नीचा दिखाने की कोशिश करता है.”

योगगुरु ने कहा कि सभी देश को अपनी आत्मरक्षा करने का अधिकार है. भारत ने भी ऐसा किया. अगले चुनाव के बाद कैसी सरकार होनी चाहिए? इस प्रश्न पर योगगुरु ने कहा कि देश में वैसी सरकार हो जो देश को मजबूती दे सके और जिसकी नीयत साफ हो.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top