पीपल्स डेमोक्रैटिक पार्टी की अध्यक्ष और जम्मू की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने जम्मू कश्मीर में जमात-ए-इस्लामी पर पाबंदी लगाने के केंद्र के फैसले के खिलाफ सड़कों पर विरोध प्रदर्शन के लिए उतर आई हैं. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक श्रीनगर में महबूबा मुफ्ती पीडीएफ के कार्यकर्ताओं के साथ रैली निकाल रही हैं.

केन्द्र सरकार ने गुरुवार(28 फरवरी ) को कानूनी गतिविधि अधिनियम नियम के अंदर जमात-ए-इस्लामी (जम्मू कश्मीर) पर पांच साल के लिए पाबंदी लगाई थी, क्योंकि उसकी आतंकवादी संगठनों के साथ मेलजोल है.

एक मार्च को इसका विरोध करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा, राजनीतिक मुद्दे से बाहुबल से निपटने की नरेन्द्र मोदी सरकार का एक और उदारहण. महबूबा ने ट्वीट कर लिखा, ‘लोकतंत्र विचारों का संघर्ष होता है, ऐसे में जमात-ए-इस्लामी (JK) पर पाबंदी लगाने की दमनात्मक कार्रवाई निंदनीय है और यह जम्मू कश्मीर के राजनीतिक मुद्दे से अक्खड़ और धौंस से निपटने की भारत सरकार की पहल का एक अन्य उदाहरण है.’

जानकारी के लिए आपको बता दे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में उच्चस्तरीय बैठक के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गैर कानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत इस संगठन पर पाबंदी लगाते हुए अधिसूचना जारी की थी.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top