मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बालाकोट बमबारी का सच बताने की अपील की और पुलवामा में हुए आतंकी हमले को दुर्घटना करार दिया. सिंह ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं, जिनमें पुलवामा में सुरक्षा बलों की शहादत के साथ ही वायुसेना की एयर स्टाइक को लेकर सवाल किए गए है.

सिंह ने एक ट्वीट में कहा है, क्या है बालाकोट बमबारी का सच. हमें हमारी सेना पर उनकी बहादुरी पर गर्व है और पूरा विश्वास है. सेना में मैंने मेरे अनेकों परिचित व निकट के रिश्तेदारों को देखा है कि किस प्रकार वे अपने परिवारों को छोड़कर हमारी सुरक्षा करते है. हम उनका सम्मान करते है. किन्तु पुलवामा दुर्घटना के बाद हमारी वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक के बाद कुछ विदेशी मीडिया में संदेह पैदा किया जा रहा है, जिससे हमारी भारत सरकार की विश्वसनीयता पर भी प्रश्नचिन्ह लग रहा है.

सिंह ने बालाकोट में मारे गए आतंकियों की संख्या को लेकर भी सवाल किए है. उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा है, प्रधानमंत्री जी आपकी सरकार के कुछ मंत्री कहते हैं 300 आतंकवादी मारे गए, भाजपा अध्यक्ष कहते हैं 250 मारे हैं, योगी आदित्यनाथ कहते हैं 400 मारे गए और आपके मंत्री एस. एस. अहलूवालिया कहते हैं एक भी नहीं मरा. और आप इस विषय में मौन है. देश जानना चाहता है कि इसमें झूठा कौन है.

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा है, मोदी जी सवाल न सियासत का है, न सत्ता का. सवाल उन बिलखती बहनों का है, जिन्होंने अपने भाई खोए हैं, सवाल उस मां का है, जिसके लाडले की शहादत हुई है और सवाल उस वीरांगना का है, जिसने अपना पति खोया है. इनके सवालों के जवाब आप कब देंगे?

सिंह ने भाजपा पर सेना की एयर स्टाइक से राजनीतिक लाभ उठाने का आरोप लगाते हुए एक दूसरे ट्वीट में कहा है, आप, आपके वरिष्ठ नेता व आपकी पार्टी सेना की सफलता को जिस प्रकार से केवल अपनी सफलता साबित कर चुनावी मुद्दा बनाने का प्रयास कर रहे हैं, वह हमारे देश के सुरक्षाकíमयों की बहादुरी और समर्पण का अपमान है. देश का हर नागरिक भारतीय सेना व समस्त सुरक्षाकर्मी का सम्मान करता है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top