• गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट सात मई को खुलेंगे
  • बदरीनाथ के कपाट आगामी 10 मई को खोले जायेंगे 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

देहरादून  :  भगवान् शिव के 12वें ज्योर्तिलिंग में शामिल भगवान केदारनाथ के कपाट खुलने की तिथि सोमवार को महाशिवरात्रि पर्व पर ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में तय की गई। धर्माचार्यों व मंदिर समिति के अधिकारियों की उपस्थिति में आगामी यात्राकाल के लिए केदारनाथ धाम के कपाट खोले जाने की विधिवत घोषणा की गयी।  इस बार बाबा केदार के कपाट आगामी नौ मई  गुरुवार को सुबह 5 बजकर 35 मिनट पर खोले जाएंगे।  इसी के साथ चारों धाम के कपाट खुलने की तिथियां घोषित हो गई हैं। इसके तहत गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट सात और बदरीनाथ के 10 मई को खोले जाएंगे।

प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी महाशिवरात्रि पर्व भगवान केदारनाथ के कपाट खुलने की तिथि घोषित होती है। इस वर्ष भी कपाट खुलने तिथि की घोषणा को लेकर बद्री-केदार मंदिर समिति की ओर से पंचगद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में तैयारियां की गई।

सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे पुजारी, ब्राह्मण, वेदाचार्य पंचाग गणना के अनुसार भगवान केदारनाथ के कपाट नौ मई को सुबह 5 बजकर 35 मिनट पर खोले जाएंगे। बद्री-केदार मंदिर समिति, प्रशासन एवं हकूकधारियों की मौजूदगी में कपाट खुलने की तिथि की घोषणा की गई।

ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से बाबा की विग्रह डोली का केदारनाथ के लिए प्रस्थान का समय 6 मई को निश्चित किया गया है। इस दौरान केदारनाथ के रावल भीमाशंकर लिंग, मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल के साथ ही मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह, कार्याधिकारी एनपी जमलोकी समेत प्रशासन एवं स्थानीय लोग मौजूद रहे। 





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top