• सरकारी कार्य मे बाधा डालने की धाराओं में किया पुलिस ने गिरफ्तार
देवभूमि मीडिया ब्यूरो
ऋषिकेश :  कहा जाता है न कभी लेने के देने पड़ जाते हैं सोमवार को ऋषिकेश को मुनिकीरेती में एक फर्जी पत्रकार के साथ ऐसा ही हुआ। स्वयं को एक प्रतिष्ठित अखबार का पत्रकार बताते हुए पुलिस को धौंस दिखाने की कोशिश करने वाले स्वर्ग आश्रम चौक लक्ष्मण झूला पौड़ी  गढ़वाल निवासी शिव चंद्र राय पुत्र महेंद्र कुमार ने एक तो सड़क के बीचों बीच स्कूटी खड़ी कर सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की फ्लीट को बाधित करने का प्रयास तो किया ही साथ ही मौके पर ड्यूटी पर मौजूद चौकी प्रभारी शिवपुरी श्री अंशुल अग्रवाल के साथ गाली गलौज करते हुए अभद्रता तक कर डाली तो पुलिस ने आरोपी को सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में  धारा 332, 353 और  504 भारतीय दंड संहिता के तहत गिरफ्तार कर लिया।
घटना बीते दिन की बताई जा रही है जब  सर्वोच्च न्यायालय के माननीय मुख्य न्यायाधीश महोदय के ऋषिकेश आगमन पर पुलिस द्वारा कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी । पुलिस के अनुसार जब माननीय मुख्य न्यायाधीश  महोदय राम झूला से होते हुए शिवा नंद गेट की ओर आ रहे थे तो एक स्कूटी सवार संख्या यूके  14 E -52 53 जो  PWD  तिराहे से राम झूला की ओर जा रहा था, को पुलिस द्वारा इस दौरान रूट डायवर्जन होने के कारण लक्ष्मण झूला से जाने के लिए कहा तो उक्त व्यक्ति *शिव चंद्र राय पुत्र महेंद्र कुमार निवासी स्वर्ग आश्रम चौक लक्ष्मण झूला पौड़ी  गढ़वाल* द्वारा  ।साथ ही इस व्यक्ति के द्वारा फ्लीट के आने से ठीक पहले स्कूटी को बीच सड़क पर खड़ा कर माननीय मुख्य न्यायाधीश महोदय की सुरक्षा व्यवस्था को बाधित कर दिया।
पुलिस के अनुसार मौके पर तैनात उपनिरीक्षक श्री अंशुल अग्रवाल द्वारा इन्हें सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में  धारा 332 353 504 भारतीय दंड संहिता के तहत गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी द्वारा स्वयं को एक प्रतिष्ठित अखबार का पत्रकार बताते हुए पुलिस को धौंस दिखाने की कोशिश की । परंतु जानकारी में आया कि वर्तमान में इसका प्रेस से कोई लेना देना नही है।




0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top