प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमिलनाडु के कन्याकुमारी में शुक्रवार को विभिन्न रेल-सड़क विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया. अधिकारियों ने प्रधानमंत्री के दौरे से पहले सुरक्षा बढ़ा दी है. बड़ी संख्या में पुलिस की तैनाती की गई है. नए परियोजनाओं से राज्य में सड़क व रेल संपर्क में बढ़ोतरी होगी.

प्रधानमंत्री मोदी वीडियो कांफ्रेंस के जरिए मदुरै-चेन्नई के बीच तेजस एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे. इससे दोनों शहरों के बीच आवागमन के समय में कमी आएगी. पहली तेजस एक्सप्रेस मुंबई से करमाली के बीच शुरू की गई थी. मोदी रामेश्वरम व धनुषकोडी के बीच रेल संपर्क बहाल करने के लिए परियोजना की आधारशिला भी रखेंगे. धनुषकोडी में रेलवे स्टेशन 1964 के चक्रवात में डूब गया था.

मोदी पमबन पुल की बहाली के लिए आधार शिला रखेंगे जो मुख्य भूमि व रामेश्वर द्वीप के बीच रेल संपर्क प्रदान करेगा. नया पुल, मौजूदा 104 साल पुराने पुल के समानांतर बनेगा. एक बार जब यह बनकर तैयार हो जाएगा, तो पुराने पुल के स्थान पर इसी पुल का प्रयोग किया जाएगा.

मोदी विभिन्न सड़क परियोजनाओं की शुरुआत करेंगे और एनएच -87 के मदुरै-रामनाथपुरम खंड के 2/4 लेन और दो फ्लाईओवर राष्ट्र को समर्पित करेंगे. मोदी एनएच-785 के मदुरै-चेत्तीकुलम खंड पर चार लेन व एनएच-785 के चेत्तीकुलम-नाथम खंड की चार लेने परियोजना की आधारशिला भी रखेंगे. वह कन्याकुमारी में सड़क सुरक्षा पार्क व परिवहन म्यूजियम का शुभारंभ करेंगे.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top