प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पटना में रविवार को एक रैली को संबोधित करते हुए पांच साल के अपने कार्यकाल के विकास कार्यो का ब्यौरा दिया और सेना के पराक्रम पर सवाल उठाने वालों पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने खुद को ‘चौकीदार’ बताते हुए दावा किया कि हर हाल में देश की सीमा और गरीबों की सुरक्षा की जाएगी. भारत नई नीति, नई रीति पर आगे बढ़ रहा है. उन्होंने बिहार सरकार की भी तारीफ की. बिहार की राजधानी के गांधी मैदान में आयोजित राजग की संकल्प रैली में बड़ी संख्या में पहुंचे लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भारत नई नीति, नई रीति पर आगे बढ़ रहा है. अब भारत वीरों के बलिदान पर चुप नहीं बैठता है, चुन-चुनकर जवाब देता है.

प्रधानमंत्री ने इस रैली के जरिए आगामी लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत करते हुए कहा, 50 साल बाद ऐसा हुआ कि इस्लामिक देशों की कान्फ्रेंस में भारत को सम्मान के साथ बुलाया गया और हमारी बात सुनी गई. अभी हाल में सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस भारत आए थे, उनसे बात करते हुए मैंने कहा कि हमारे मुसलमान भाई बड़ी संख्या में हज के लिए जाना चाहते हैं, तो उन्होंने हमारे देश का कोटा दो लाख तक बढ़ा दिया. उन्होंने कहा, देश की सेना सीमा के भीतर हो या सीमा के पार, आतंक पर प्रहार करने में हम लगे हुए हैं.

मोदी ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद का नाम लिए बिना कहा कि यहां चारा के नाम पर क्या-क्या होता था, यह सभी जानते हैं. आपका चौकीदार चौकन्ना है, कुछ नहीं होने देगा. आतंकवाद की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, जब हमारे देश की सेना आतंकवाद मिटाने में लगी है तो देश के ही कुछ लोग उनका हौसला बढ़ाने के बजाय ऐसी बातें कर रहे हैं जिससे दुश्मनों के चेहरे खिल रहे हैं. उन्होंने अपने अंदाज में कहा, देश के भीतर ही कुछ लोग क्या-क्या कर रहे हैं. देश की आवाज और सेना के हौसलों को बुलंद करने के बजाय कुछ लोग ऐसी बातें कर रहे हैं, जिससे दुश्मनों के चेहरे खिल रहे हैं. पाकिस्तान में टीवी पर उनकी बातें दिखाकर वहां तालियां बजाई जा रही हैं.

पिछले दिनों दिल्ली में आयोजित विपक्षी दलों की बैठक का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, जब आतंक की फैक्ट्री चलाने वालों के खिलाफ बात करने की जरूरत थी, तब 21 पार्टियां केंद्र सरकार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पास करने के लिए जमा हुईं. देश उनके इस कृत्य को माफ नहीं करेगा. उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या ऐसे समय पाकिस्तान खुश हो, ऐसी भाषा बोलनी चाहिए, क्या यह शोभा देता है? विपक्ष के गठबंधन को ‘मिलवाटी’ बताते हुए उन्होंने कहा, हमारी प्राथमिकता आतंकवाद खत्म करना है जबकि उनका लक्ष्य मोदी को खत्म करना है. मैं दिन-रात एक कर रास्ते बना रहा हूं और मुझे ही रास्ते से हटाने में लगे हैं.

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस और उनके सहयोगी दल पर निशाना साधते हुए कहा, हमारे वीर जवान आतंक पर प्रहार कर रहे हैं और कांग्रेस व उनके सहयोगी दल उनका मनोबल तोड़ने में लगे हैं. उन्होंने कहा, मैं जानना चाहता हूं, वे क्यों हमारे जवानों का मनोबल तोड़ने में लगे हैं. कांग्रेस और उनके सहयोगी दल के नेता ऐसे बयान क्यों दे रहे हैं, जिससे देश के दुश्मनों को फायदा हो रहा है. मोदी ने कहा कि जिसने भी देश को लूटा, उनसे डंके की चोट पर वसूली हो रही है, इस कारण लोग अब चौकीदार को गाली दे रहे हैं. उनमें चौकीदार को गाली देने का कंप्टीशन चल रहा है. मोदी ने इशारों ही इशारों में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के परिवार पर निशाना साधते हुए कहा, आपके चौकीदार ने बिहार में लूट-खसोट से बेनामी संपत्ति बनाने वाले और बिचौलिया संस्कृति को बंद करने की हिम्मत दिखाई, अब इनकी दुकानदारी बंद हो गई. वे इस चौकीदार से परेशान हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा, राजग की सरकार ये सुनिश्चित करने में जुटी है कि बिहार में विकास की पंचधारा यानी बच्चों को पढ़ाई, युवा को कमाई, बुजुर्गो को दवाई, किसानों को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई, ये सुनिश्चित हो. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को कर्मठ और शालीन व्यक्ति बताते हुए कहा कि राजग की सरकार से बिहार का विकास पटरी पर है. उन्होंने बिहार के विकास की तारीफ की. इससे पहले, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दावा किया कि राज्य के हर घर में बिजली पहुंच गई है. उन्होंने कहा कि अब राज्य में ‘लालटेन’ की जरूरत समाप्त हो गई है. उन्होंने महात्मा गांधी के बताए सात पापों का जिक्र करते हुए राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद और उनके पुत्र तेजस्वी पर जमकर निशाना साधा.

मुख्यमंत्री ने कहा, बिहार सरकार न्याय के साथ विकास की राह पर चल रही है. बुनियादी ढांचागत सुविधाओं पर विशेष काम किया जा रहा है. हर घर तक नल का जल उपलब्ध कराया जा रहा है. टोले तक सड़कें बनाई जा रही हैं. इस वर्ष महात्मा गांधी की जयंती तक बिहार के सभी घरों में शौचालय का निर्माण करवा दिया जाएगा. लोकसभा चुनाव में बिहार की सभी 40 सीटों पर जीत का दावा करते हुए उन्होंने कहा, हर घर में बिजली पहुंच गई है, और अब ‘लालटेन’ की जरूरत ही खत्म हो गई. ‘लालटेन’ राजद का चुनाव चिन्ह भी है. मुख्यमंत्री ने आतंकवाद के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल पर उन्हें बधाई देते हुए कहा, सेना को दिया गया अधिकार अहम कदम है. बिहार ने भी आतंकवाद के खिलाफ शहादत दी है. आतंकवाद के खिलाफ केंद्र सरकार जरूरी कदम उठाएगी.

केंद्रीय मंत्री और लोकजनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख रामविलास पासवान ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि विकास का जो काम देश में 70 साल में नहीं हुआ, वह काम पिछले पांच वर्ष में हुआ है. उन्होंने एयर स्ट्राइक की चर्चा करते हुए कहा कि कहा जाता था कि प्रधानमंत्री का सीना 56 इंच का है परंतु आज यहां के लोग कहने लगे हैं कि प्रधानमंत्री का सीना 56 नहीं, 156 इंच का है. पासवान ने कहा कि भारत महात्मा बुद्ध की धरती है, जो युद्ध नहीं चाहता. लेकिन अगर पाकिस्तान नहीं सुधरेगा तो भारत युद्ध से भी पीछे नहीं हटेगा. राजग की इस रैली को केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, जद (यू) के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय, बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने भी संबोधित किया.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top