• अटारी बाघा बोर्डर के पास हज़ारों लोगों ने तिरंगे से किया स्वागत

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

नई दिल्‍ली : करोड़ों देश वासियों का इंतजार आख‍िरकार खत्‍म हो गया रात 9:23 पर भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की पाकिस्तान से भारत में सकुशल वापसी हो गई. इससे पहले पाकिस्‍तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को को हैंडओवर करने में दो बार समय में परिवर्तन किया. इसी कारण उनके भारत लौटने में देरी हुई. काले कोट और व्‍हाइट शर्ट में विंग कमांडर अभ‍िनंदन बॉर्डर पर पहुंचे.

अटारी बॉर्डर आने के बाद विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान अमृतसर से दिल्‍ली के लिए रवाना हुए. यहां मेडिकल चेकअप किये जाने के बाद रात 12 बजे वह विशेष विमान से  दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पहुंचे. यहां से उन्‍हें आरआर अस्‍पताल के लिए रवाना कर दिया गया. चार दिन तक वह अस्‍पताल में ही रहेंगे. इस दौरान डॉक्‍टरों की एक टीम उनकी बारीकी से न‍िगरानी करेगी.

वाघा बॉर्डर पर पहुंचने के बाद विंग कमांडर अभ‍िनंदन का पहला र‍िएक्‍शन था, घर लौटकर खुश हूं. हालांकि अभी उन्‍हें लंबी मेड‍िकल जांच प्रक्र‍िया से गुजरना होगा. इस दौरान डॉक्‍टर उन पर न‍िगाह रखेंगे. इसके बाद ही वह घर लौट सकेंगे. इसके बाद ही वायुसेना की ओर से कोई आध‍िकार‍िक बयान सामने आएगा. अभी पाकिस्‍तान एक वीड‍ियो चला रहा है. ज‍िसे एड‍िटेड बताया जा रहा है

इससे पहले अभिनंदन की स्वदेश वापसी पर पूरे देश की निगाहें वाघा बॉर्डर पर लगी हुई थीं. पहले यह खबर आ रही थी कि विंग कमांडर अभिनंदन को दोपहर बाद रिहा किया जायेगा, लेकिन दिन ढलने और रात आने के साथ लोगों का इंतजार बढ़ता गया . अभिनंदन को बुधवार को पाकिस्तान ने पकड़ लिया था. रात ढलने के साथ लोग सांसें थाम कर पायलट अभिनंदन की एक झलक का इंतजार करते रहे लेकिन ऐसा समय के साथ उनकी प्रतीक्षा बढ़ती गयी. रात 9 बजे ये इंतजार खत्‍म हुआ.

गौरतलब है कि भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तानी सीमा में जैश ए मोहम्मद के ठिकानों को निशाना बनाया. उसके बाद पाकिस्तानी वायु सेना की ओर से भारत की वायु सीमा का उल्लंघन किया गया और इस दौरान हुए हवाई संघर्ष में पाकिस्तान का एक एफ..16 विमान गिरा दिया गया एवं भारत का मिग 21 दुर्घटनाग्रस्त हो गया . इस संघर्ष के परिणामस्वरूप विंग कमांडर अभिनंदन का पैराशूट सीमा पर बढ़ गया और उन्हें पाकिस्तान ने पकड़ लिया .

इसके बाद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी संसद में कहा था कि वह शांति के संदेश के तौर पर भारतीय पायलट को रिहा कर रहे हैं. विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान द्वारा पकड़े जाने का मुद्दा दोनों देशों के बीच तनाव का केंद्र बिन्दु बना हुआ है.  देशभर में अलग अलग स्थानों पर देशभक्ति का रंग सहज ही देखा जा सकता है. अहमदाबाद में गरबा के दृश्य देखे गए तो बेंगलूरू में लोग नृत्य करते मिले. पुरी में बालू की कलाकृतियां तैयार की जा रही थी, वहीं अलग अलग स्थानों पर यज्ञ भी आयोजित किये गए. अटारी बाघा बोर्डर के पास चेकपोस्ट पर सुबह से ही लोग तिरंगा लिये जमा थे . उनमें से अनेक अपना चेहरा तिरंगे के रंग से रंगे थे और विंग कमांडर अभिनंदन की सुरक्षित वापसी के समर्थन में नारे भी लगा रहे थे.

एक समय अटारी के पास कारों का काफिला देखकर लोग काफी उत्साहित हो गये थे . उनके मन में यह उत्सुकता थी कि उनमें से एक कार में अभिनंदन है और क्या वे मीडिया को संबोधित करेंगे . लेकिन कोई वास्तविक उत्तर नहीं मिल रहा था . देर शाम तक यह पूरी तरह से साफ नहीं हो रहा था कि उन्हें किस प्रकार से सौंपा जायेगा .

इस बीच भारत ने वाघा-अटारी सीमा पर बिटींग द रिट्रीट समारोह को आज स्थगित कर दिया क्योंकि अनुमानित 20 हजार लोग वहां एकत्र हो गए थे. अंधेरा बढने के साथ अटारी में लोगों की संख्या कम हुई लेकिन पत्रकार वहां डटे रहे . अभिनंदन की स्वदेश वापसी को लेकर प्रतीक्षा काफी लम्बी होता जा रही है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top