भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को देखते हुए खूफिया विभाग की एक रिपोर्ट में यह अंदेशा जताया गया है कि पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी आईएसआई कश्मीर में तैनात सुरक्षाबलों के राशन में जहर मिला सकती है. रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान मिलिट्री इंटेलीजेंस और आईएसआई कश्मीर में तैनात जवानों के राशन में जहर मिलाकर सुरक्षाबलों को बड़ा नुकसान पहुंचाने की योजना बना रहे हैं.

इस खूफिया रिपोर्ट के बाद सुरक्षा बलों को चौकन्ना रहने को कहा गया है. सुरक्षाबलों के कैंपों में राशन डिपो की सुरक्षा कड़ी कर दी गई हैं. साथ ही कश्मीर जाने वाले राशन को चेक करने के भी निर्देश दिए गए हैं.

बता दें कि खूफिया विभाग की यह रिपोर्ट ऐसे वक्त आयी है, जब भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव काफी बढ़ा हुआ है. सीमा पर गोलीबारी हो रही है और लगातार सीजफायर का उल्लंघन किया जा रहा है. भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की शुरुआत बीती 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद हुई थी.

इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. इसके जवाब में भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पाकिस्तान की सीमा में घुसकर एअर स्ट्राइक की और जैश-ए-मोहम्मद के बालकोट स्थित आतंकी कैंप को तबाह करने का दावा किया.

वहीं भारतीय वायुसेना की इस कार्रवाई से बौखलाए पाकिस्तान की वायुसेना ने 27 फरवरी को भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना के चौकन्ना रहने के चलते पाकिस्तान अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो सका. इस हमले में भारत ने पाकिस्तान का एक लड़ाकू विमान तबाह कर दिया. वहीं भारतीय पायलट विंग कमांडर का विमान भी पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में जाकर क्रैश हो गया.

विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान ने करीब 60 घंटे अपने कब्जे में रखने के बाद शुक्रवार रात 9.30 बजे के करीब वाघा बॉर्डर से भारत को सौंप दिया. हालांकि अभी भी दोनों देशों के बीच तनाव बना हुआ है और आशंका है कि पाकिस्तान अपनी बौखलाहट मिटाने के लिए कोई हरकत कर सकता है.

साभार जनसत्ता 





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top