वनबसा जांच चौकी पर खुफिया एजेंसियां कर रही पूछताछ

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

चंपावत : भारत – नेपाल सीमा पर वनबसा सीमा पर बिना पासपोर्ट और वीजा के नेपाल से भारत आ रही पाक मूल की अमेरिकन नागरिक फरीदा मलिक को इमिग्रेशन चेक पोस्ट पर  सुरक्षा और जांच एजेंसियों ने हिरासत में लिया है। पकडे जाने के बाद महिला से सीमा पर स्थित तमाम खुफिया एजेंसियों ने पूछताछ कर  रही हैं । पुलिस ने महिला पर मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई शुरू कर दी है

पूरी जांच के बाद इमिग्रेशन चेक पोस्ट अधिकारी ने उसे पुलिस के सुपुर्द कर दिया। चोरी छुपे बनबसा बॉर्डर से भारत आने के पीछे उसका उद्देश्य क्या था, इसका खुलासा नहीं हो सका है। मिली जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को काठमांडू (नेपाल) से  दिल्ली जा रही एक बस की चेकिंग के दौरान इमिग्रेशन चेक पोस्ट कर्मियों को बस में सवार एक महिला पर शक हुआ।

पूछताछ में उसने अपने को नेपाली नागरिक बताते हुए कहा कि वह दिल्ली जा रही है। चेक पोस्ट कर्मियों ने उससे आईडी दिखाने को कहा तो वो सकपका गई। उसको संदिग्ध मान इमिग्रेशन चेक पोस्ट ले जाया गया।

सख्ती से पूछने पर उसने बताया कि उसका नाम फरीदा मलिक (50) पुत्री सुल्तान अख्तर मलिक है। वह पाकिस्तान में पैदा हुई और अपने परिवार के साथ वर्ष 1992 में अमेरिका की नागरिकता ले ली थी। तब से वह अमेरिका में ही रहती है। उसने बताया कि उसका पासपोर्ट काठमांडू में रह गया है।

इमिग्रेशन चेक पोस्ट अधिकारी ने दूतावास से मालूमात कर पता लगाया कि उसके नाम का पासपोर्ट तो बना है परंतु उसके पासपोर्ट पर भारत का वीजा नहीं है। इमिग्रेशन अधिकारी इंद्र सिंह ने बताया कि बिना पासपोर्ट और वीजा के भारत में प्रवेश करने के जुर्म में उसे बनबसा पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई शुरू कर दी है।  





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top