देहरादून- उत्तराखंड में टेलेंट की कमी नहीं है…खेल, देश सेवा,राजनीति हर क्षेत्र में उत्तराखंडवासियों ने अपना लोहा मनवाया है. वहीं भारतीय सेना में रहकर देश की सेवा करने की बात हो या देश की रक्षा के लिए शहादत की उत्तराखंड सेना के जवान(गढ़वाल राइफल) हमेशा से आगे रहे हैं. हालात कैसे भी हो देश की सुरक्षा का जिम्मा हो या बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाना हो गढ़वाल राइफल के जवान हमेशा से देश सेवा के लिए सीना चौड़ा कर आगे रहे हैं. पिछली बार केरल में आई बाढ़ में गढ़वाल राइफल के जवानों ने कई लोगों की जान बचाई थी वहीं एक बार फिर से गढ़वाल राइफल के जवान असम के लोगों के लिए मसीहा बने.

उत्तर भारत के अधिकतर हिस्से इन दिनों आसमानी आफत से परेशान हैं. बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, असम समेत कई राज्यों में हालात बदतर हो चले हैं. असम के 33 जिलों में से 17 जिले बाढ़ का दंश झेल रहे हैं. इन जिलों के 4.23 लाख लोग विस्थापित हो चुके हैं.

ब्रह्मपुत्र नदी के बढ़ते जलस्तर के कारण असम के 17 जिलों में बाढ़

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों के मुताबिक, ब्रह्मपुत्र नदी के बढ़ते जलस्तर के कारण 17 जिलों में बाढ़ आ गया है. इसके कारण 4,23,386 लोगों को अपना घर छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा है. बाढ़ के कारण 16,730.72 हेक्टेयर फसल बर्बाद हो चुकी है. नदी के कटाव के कारण 19 गांवों पर अस्तित्व बचाने का खतरा मंडरा रहा है. 64 से अधिक सड़कें और एक दर्जन पुल पानी में डूबे हैं

गढ़वाल राइफल के सैनिकों ने निकाला बाढ़ के पानी से लोगों को सुरक्षित बाहर

वहीं ऐसे में उत्तराखंड गढ़वाल राइफल के सैनिक लोगों के लिए फरिश्ते से कम नहीं साबित हुए. जी हां असम में बाढ़ में फंसे लोगों के लिए गढ़वाल राइफल्स के जवान जिंदगी का पुल बन गए हैं। जवानों ने अब तक कई हजार लोगों सुरक्षित जगह पहुंचाया औऱ उनके लिए फरिश्ते बने. असम में आई बाढ़ ने वहां के लोगों को जरुर सहमाया लेकिन आंसू पोंछने और मदद का हाथ बढ़ाने वालों की भी कमी नहीं। बच्चे, बूढ़े, जानवर सब रोते बिलखते उनके चेहरे पर दर्द और डर साफ झलक रहा है जिसे कई सेना के जवान सहित कई सुरक्षाकर्मी कम करने का काम कर रहे हैं.

गढ़वाल राइफल के जवान असम के लोगों के लिए फरिस्ता बनकर आए औऱ अपनी जान की परवाह न करते हुए कई लोगों की जान बचाई. असम के लोग जरुर जवानों को दुआएं दे रहे होंगे, बहादुर जवानों ने तन मन से देश की और देश की जनता की सेवा की है और आगे भी करते रहेंगे..हमारे देश को गर्व है अपने देश के सैनिकों पर औऱ उनकी बहादुरी पर. जय हिंद





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top