खटीमा: कुमाऊं मंडल में मानसून की पहली बारिश ने सरकारी इंतजामों की पोल खोलकर रख दी। बारिश कहर इस कदर बरपा कि लोगों को सड़कों पर चलना मुश्किल हो गया। खटीमा में बंगाली कॉलोनी पकड़िया में जलभराव हो गया। आलम यह राह कि लोगों को सड़क पर नाव उतारनी पड़ी। गर्भवती महिला को किसी तरह काॅलोनी से नाव के सहारे सड़क तक पहुंचाया गया, फिर वहां से अस्पताल लेजाया गया।

गांव में बारिश का पानी हर साल लोगों के लिए दिक्कतें खड़ी करता है। हर बार शासन-प्रशासन और सरकारें जल निकासी के दावे करते हैं, लेकिन दावे हर बार हवाई साबित होते हैं। नगर के ब्लॉक मार्केट, थारू विकास भवन के आसपास की बस्ती, अमाऊं, आदर्श कॉलोनी, खकरा नाले से लगा इस्लामनगर, सैनिक कॉलोनी, कंजाबाग सड़कें भी पूरी तरह जलमग्न हो गई। ब्लॉक मार्केट के आगे की दुकानों में तीन फीट तक जलभराव हो गया।

कई नदियों का जलस्तर भी काफी बढ़ गया था। जिसके चलते लोगों को अलर्ट कर दिया गया। नदी किनारे रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा गया है। काठगोदाम समेत कुमाऊं मंडल के कई इलाकों में भू-स्खलन हुआ, जिससे दो लोगों की मौत हो गई। जबकि तीन लोग गंभीर घायल हो गए।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top