देहरादून: देहरादून की लाइफ लाइन कही जाने वाली सुसवा नदी अब कैंसर देने वाली नदी बन गई है। न्यूज-18 नेटवर्क ने एक रिपोर्ट की है। रिपोर्ट में कहा गया है कि देहरादून शहर की सारी गंदगी और सीवर का पानी सुसवा नदी में जाकर मिलता है। लगातार गंदगी के कारण नदी जीवन देने के जगह मौत देने लगी है। तीन साल के एब बच्चे में ब्लड कैंसर की शिकायत मिली। जांच में पता चला कि बच्चे को पानी नीने से ये समस्या हुई है।

डोईवाला ब्लाक के झडौंद गांव का कुशल अकेले नहीं हैं, जिसे कैंसर की बीमारी हो। उसके पड़ोस में रहने वाले दिवान सिंह की पत्नी भी कैंसर की बिमारी के कारण जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही हैं। दो साल पहले डॉक्टर ने उन्हें कैंसर बताया था। तब से अब तक दिवान सिंह अपनी पत्नी के इलाज के लिए दो बीघा जमीन बेच चुके हैं।

सुसवा नदी जबसे प्रदूषित हुई है तब से कैंसर के मरीज बढ़ गए है। साथ ही झडौंद और आस-पास के गांव में भी 12 से 15 लोगों को कैंसर है और कई लोगों की कैंसर से मौत भी हो चुकी है। स्पैक संस्था के संस्थापक बृजमोहन शर्मा बीते पांच सालों से सुसवा नदी और घरों के नलकों में आने वाले पानी की टैस्टिंग कर रहे हैं उनका मानना है कि सुसवा नदी में कैंसर देने वाले तत्व आ गए हैं, जो कि ग्राउंड वाटर के साथ मिल रहे हैं. साथ ही इस क्षेत्र में पानी की आपूर्ति ट्यूबवैल से हो रही है, जिससे ये पानी लोगों को कैंसर दे रहा है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top