शनिवार को पश्चिम बंगाल के आसनसोल में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) कार्यकर्ताओं के बीच आसनसोल में झड़प हो गई. भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा.

वहीं इस पूरे मामले में आसनसोल के मेयर और टीएमसी नेता जे तिवारी ने कहा कि वे हमला करने के इरादे से आए थे लेकिन म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन का गेट भी नहीं छू सके.

बाबुल सुप्रियो पर निशाना साधते हुए जे तिवारी ने कहा कि- बाबुल सुप्रियो यदि तुम बीजेपी के बंदर हो तो हमारे पर आसनसोल में तुम्हारे लिए पिंजरा तैयार है. हमारे पास तुम्हारे जैसे बंदरों को पिंजरे में बंद करने की क्षमता है.

आसनसोल नगर निगम कार्यालय के बाहर ‘कट मनी’ के विरोध में कल से ही प्रदर्शन चल रहा था. भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) और बीजेपी का नगर निगम मुख्यालय घेराव शुक्रवार को ही पुलिस के साथ संघर्ष में बदल गया.

संगठन के कार्यकर्ताओं व समर्थकों ने पुलिस की बैरिकेड तोड़ दी. पुलिस ने लाठी चार्ज कर खदेड़ने का प्रयास किया, तो कार्यकर्ताओं ने भारी पथराव किया और पुलिस को पीछे खदेड़ दिया. बाद में दर्जनों आंसू गैस और लाठी चार्ज का प्रयोग कर पुलिस बल ने उन्हें इलाके से खदेड़ा. इस पूरे मामले में 13 बीजेपी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया था.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top