तीन लोगों की मौत की सूचना

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

चमोली जिले में देवाल प्रखंड के बाद अब जिला मुख्यालय गोपेश्वर से 30 किलोमीटर दूर नंदप्रयाग के नंदाकिनी घाटी में मौसम ने कहर बरपाया है। घाट विकासखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है बताया जा रहा है कि सोमवार तड़के सुबह बांजबगड़ के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बादल फटने से भारी तबाही हुई सुबह लगभग 5:00 बजे तेज बारिश के साथ चूफाना गाड उफान पर है,जिसके बाद ग्रामीणों के कई घर और गौशाला नाले की चपेट में आ गए।

वही घाट बाजार में पांच से छह दुकानें बह गई और एक आवासीय भवन भी क्षतिग्रस्त हो गया बादल फटने की घटना से 3 लोग की मौत की सूचना भी सामने आई है मौके पर अभी प्रशासनिक टीम रवाना हुई है तेज बारिश और उफान पर बह रही नदी नाले प्रशासन की टीम को घटनास्थल पर पहुंचने में दिक्कत है पैदा कर रही हैं।

घाट क्षेत्र में बहने वाली चूफला गाड आज विकराल रूप लिए हुए हैं जो भी उसके आगोश में आ रहा है यह नाला अपने साथ बहाकर मिटिया मेट करने पर लगा हुआ है नाले के उफान पर आने से कई आवासीय भवन भरभरा कर नदी में जा गीरा स्थानीय निवासी जो इस दौरान मौजूद थे उनके अंदर डर का माहौल बना है

वहीं लगातार हो रही बारिश से अलकनंदा नदी ,धौली गंगा, नदी मंदाकिनी, पिंडर नदी ,उफान पर बह रही है जिसकी वजह से मैदानी क्षेत्रों में बाढ़ की संभावना भी बनी हुई है





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top