चमोली : उत्तराखंड में बारिश के कारण भले ही मौसम सुहाना हुआ औऱ गर्मी से लोगों को राहत मिली है लेकिन बारिश का कहर भी उत्तराखंड के कई जिलों में देखने को मिलने लगा है. बारिश के कारण कई जगह हादसे हुए, कई रास्ते बंद हो गए जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. वहीं इस बारिश के कहर से मवेशियों की भी खासा नुकसान हुआ है.

जी हां मिली जानकारी के अनुसार चमोली के गैरसैंण में सुबह बादल फटने और गांव में भारी मात्रा में मलबा आने की खबर है. गैरसैंण तहसील के पत्थरकटा गांव में आज तड़के चाड़ गदेरे में बादल फटने से चार गोशाला मलबे में दब गई हैं। सम्पर्क पुलिया व प्राथमिक विद्यालय का किचन और फरस्वाण गांव की पेयजल लाइन बह गई और साथ ही कई जगह मलबा आया।

जानकारी मिलते ही प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची है। फिलहाल जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है। वहीं बात करें रुद्रप्रयाग की तो वहां रुक रुककर बारिश हो रही है। तिलवाड़ा-मरडीगाड़ मोटर मार्ग पर बरसाती नाले में उफान आने से रास्ता बंद हो गया. कुछ वाहन मलबे में फंस गए हैं। बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ में बंद है। उत्तरकाशी जनपद के गंगोत्री, यमुनोत्री धाम तथा समस्त तहसील क्षेत्रों में मौसम





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top