देश की राजधानी दिल्ली में नया मोटर व्हीकल एक्ट खूब जोरशोर से काम कर रहा है. भले ही कई राज्यों में चालान की राशि को कम कर दिया गया हो, लेकिन दिल्ली में मोटी रकम के चालान कटना लगातार जारी है. इसी का असर है कि बीती रात दिल्ली में अब तक सबसे महंगा चालान काट दिया गया. इस चालान की राशि 2 लाख 500 रुपए है.ये चाालान एक ट्रक ड्राइवर का कटा है, जो ट्रैफिक नियमों को एकदम ताक पर रख कर चल रहा था.

दिल्ली पुलिस ने बीती रात मुकरबा चौक से भलस्वा की तरफ जाते समय हरियाणा नंबर HR 69C7473 ट्रक का चालान काटा.इस ट्रक के ड्राइवर का नाम राम किशन है, जिसके पास ट्रैफिक नियमों के तहत कोई दस्तावेज नहीं था.राम किशन का ये चालान रोहिणी कोर्ट का कटा है.

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने राम किशन का 56 हजार का चालान ओवरलोडिंग के लिए, 5000 हजार रुपये ड्राइविंग लाइसेंस नहीं होने पर, 10 हजार रुपये रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के लिए, 10 हजार रुपये फिटनेस के लिए, 10 हजार रुपये परमिट वॉयलेशन के लिए, 4 हजार रुपये इंश्योरेंश के लिए, 10 हजार रुपये पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं होने पर , 20 हजार रुपये बिना ढकीं निर्माण सामग्री ले जाने के लिए और 1000 रुपये सीट बेल्ट न लगाने के लिए जुर्माना किया गया.बता दें कि ओवर लोडिंग का चालान 20 हजार रुपये है, जबकि जितना टन अधिक सामान होगा उसे 2 हजार के गुना कर दिया जाएगा.ड्राइवर कुल 18 टन ज्यादा सामान लेकर जा रहा था.

ट्रक के ड्राइवर का कहना था कि उनकी गाड़ी की लोडिंग 25 टन पर पास है, उनकी गाड़ी में 43 टन रेत था.उनकी गाड़ी में 18 टन ज्यादा बताकर चालान किया गया.उन्हें खुद नहीं पता कि इतना चालान कैसे हुआ.बढ़े हुए चालान को लेकर ट्रक मालिक का कहना है कि चालान के रूप में इतनी बड़ी रकम को वसूलना उनके साथ ज्यादती है.

आपको बता दें कि 1 सितंबर से देश में नए ट्रैफिक नियम लागू हो गए हैं.खासकर देश की राजधानी दिल्ली में इन नियमों में अभी तक कोई छूट नहीं मिली है.बाकि राज्यों ने चालान की कीमत घटा दी है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top