रविवार को यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि उनकी पार्टी 2022 में राज्य में सरकार बनाएगी.अखिलेश ने कहा, “सपा परिवार बढ़ा है और हम जरूर 2022 में राज्य में सरकार बनाएंगे.”उन्होंने आगे कहा कि दूसरी पार्टी के अन्य नेताओं ने भी सपा में शामिल होने की इच्छा प्रकट की है.

उन्होंने कहा, “भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) के झूठे वादों के खेल को लोग समझ गए हैं. भाजपा जनता को बेवकूफ बना रही है, लेकिन वादे पूरे नहीं कर रही है. हर जगह अराजकता देखने को मिलती है. अर्थव्यवस्था गिर रही है और युवा बेरोजगार हैं.”

उत्तर प्रदेश में विधानसभा के चुनाव 2022 में होने हैं.अखिलेश यादव ने राज्य सरकार पर डीजे पर प्रतिबंध लगाने के फैसले के चलते ‘करोड़ो नौकरियां’ जाने को लेकर निशाना साधा. उन्होंने यह भी कहा कि 2012 से 2017 तक रहे उनके कार्यकाल के दौरान ही रायबरेली और गोरखपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के लिए जमीन आवंटित कर दी गई थी.

अखिलेश ने कहा कि भाजपा स्वदेशी को अपनाना चाहती थी और अब वे पिछड़े लोगों को उनके अधिकारों से वंचित करने में लगे हुए हैं. उन्होंने कहा कि डेयरी उद्योग का निजीकरण करने का भाजपा का निर्णय गलत है. अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा महाराष्ट्र में अपने दम पर चुनाव नहीं लड़ सकती है और इसलिए वहां विभाजनकारी राजनीति में लगी हुई है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top