महाराष्ट्र चुनाव से पहले टिकट बंटवारों को लेकर सियासी दलों में घमासान मचा है. इसी कड़ी में शिवसेना को बड़ा झटका लगा है. टिकट नहीं मिलने से नाराज नेताओं और कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा दे दिया है. महाराष्ट्र के 26 शिवसेना पार्षदों और 300 कार्यकर्ताओं ने पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे को अपना इस्तीफा भेजा है. महाराष्ट्र चुनाव में सीट बंटवारे से ये पार्षद और कार्यकर्ता नाराज हैं.

नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पार्टी पर अनदेखी करने का आरोप लगाया है. कार्यकर्ताओं का आरोप है कि वह कई सालों से पार्टी के लिए अपना खून पसीना बहा रहे हैं और चुनाव के दौरान उनकी अनदेखी कर टिकट किसी और को दे दिया गया है. गौरतलब है कि महाराष्ट् में 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे.

महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव है. वहीं 24 अक्ट्रबर को चुनाव के नतीजे आएंगे. बता दें कि दूसरी बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सत्ता में वापसी के बाद हरियाणा और महाराष्ट्र में भाजपा के लिए यह पहला विधानसभा चुनाव है. महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल नौ नवंबर को खत्म हो रहा है.

महाराष्ट्र विधानसभा में सीटों की संख्या 288 है. इसमें 234 सामान्य सीटें हैं. वहीं अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लिए 29 और 25 सीटें आरक्षित हैं. 2014 में भारतीय जनता पार्टी 122 सीटें जीत कर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी. वहीं 63 सीटों के साथ दूसरे नंबर की पार्टी बनी थी. जबकि कांग्रेस 42 सीटों के साथ तीसरे स्थान पर और शरद पवार की राकांपा 41 सीटें हासिल कर चौथे स्थान पर आई थी. महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना का गठबंधन हुआ और देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में संयुक्त सरकार बनी.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top