उधम सिंह नगर (मोहम्मद यासीन) : दशहरे के अगले दिन 80 वर्षीय कैलाशवंती जाते जाते एक इंसान की दुनिया रोशन कर गई। कैलाशवंती ने अपनी आंखें दान कर किसी जरूरतमंद को उनकी आंखों से दुनिया देखने का मौका दे दिया।
उधम सिंह नगर जिले में रुद्रपुर की आदर्श कालोनी निवासी सुभाष और राजकुमार बाठला की 80 वर्षीय माता कैलाशवंती का सोमवार रात निधन हो गया। कैलाशवंती की ‘नेत्रदान महाकल्याण’ की इच्छा के अनुसार परिवार ने भारत विकास परिषद के प्रांतीय नेत्रदान प्रकल्प संयोजक राकेश तनेजा से संपर्क किया और मुरादाबाद स्थित सी.एल.गुप्ता नेत्र बैंक की टीम रुद्रपुर पहुंचीं। टीम ने सावधानी से कैलाशवंती की दोनों आंखों को सुरक्षित निकाला। इस ऑपरेशन को देर रात लगभग 1:30 बजे अंजाम दिया गया। माता कैलाशवंती की इच्छा को पूरा कर अब परिजन प्रार्थना कर रहे हैं कि आंखों का सदुपयोग हो और किसी जरूरतमंद को रोशनी मिले।




0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top