उत्तराखंड में गुलदार का आतंक छाया हुआ है. अब तक गुलदार कई लोगों में अपना निवाला बना चुका है. मासूम बच्चों से लेकर अधेड़ गुलदार का शिकार हो चुके हैं लेकिन सरकार और विभाग कोई ठोस कदम नहीं उठा रहा है. अभी बीते दिनों पिथौरागढ़ और बागेश्वर में गुलदान ने मासूमों को अपनी भूख मिटाने के लिए शिकार किया. वहीं ताजा मामला भैसियाछाना विकासखंड के डूंगरी के उडल गांव का है. जहां मंगलवार की रात गुलदार ने एक अधेड़ व्यक्ति को अपना निवाला बनाया।

मिली जानकारी के अनुसार रमेश राम पुत्र दुलीप राम 62 रात्रि करीब 7 बजे पेटसाल से अपने घर को लौट रहे थे तभी गुलदार घात लगाए बैठा था जैसे ही वो वहां पहुंचे गुलदार उन पर झपट गया. वहीं उनका शव सुबर क्षत विक्षत हालत में मिला.

आपको बता दें कि 2018 में तब भी गुलदार को पकड़ने की मांग ग्रामीणो ने की थी लेकिन गुलदार नहीं पकड़ा जा सका. घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर लोगों की भीड़ उमड़ गई. पूर्व विधायक मनोज तिवारी भी घटना स्थल पर पहुंच गए उन्होंने विभागीय अधिकारियों वार्ता भी की|





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top