पौराणिक परंपराओं के अनुसार विश्व प्रसिद्ध केदारनाथ और यमुनोत्री धाम के कपाट भैयादूज पर्व पर 29 अक्टूबर को शीतकाल के लिए बंद कर दिए जाएंगे। इससे पहले 28 अक्टूबर को अन्नकूट पर्व पर गंगोत्री धाम के कपाट बंद होंगे, जबकि द्वितीय केदार मध्यमेश्वर और तृतीय केदार तुंगनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि विजयदशमी पर्व पर आठ अक्टूबर को तय की जाएगी।

वहीं केदानाथ के कपाट बंद होने का समय आज तय किया जाना था जो की तय हो गया है. जी हां आपको बता दें कि 29 अक्टूबर को सुबह 8.30 बजे शीतकाल के लिए केदारनाथ धाम के कपाट बंद होंगे.

इसी तरह द्वितीय केदार मद्महेश्वर जी के कपाट शीतकाल हेतु 21 नवंबर प्रातः बजे बंद होंगे। डोली इसी दिन प्रथम पड़ाव गौंडार पहुंचेगी, 22 नवंबर को राकेश्वरी मंदिर रांसी तथा 23 नवंबर को गिरिया प्रवास 24 नवंबर शीतकाल गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ पहुंचेगी। 24 नवंबर को उखीमठ में भब्य मद्महेश्वर मेला आयोजित होगा। तृतीय केदार तुंगनाथ जी के कपाट शीतकाल के लिए 6 नवंबर प्रातरू 11.30 बजे को बंद हो जायेंगे। इसी दिन उत्सव डोली चोपता पहुंचेगी। 7 नवंबर को भनकुन प्रवास 8 नवंबर शीतकालीन गद्दीस्थल मक्कूमठ पहुंचेगी।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top