देहरादून : बीते दिन फॉरेंसिक रिपोर्ट आने के बाद सीबीआई ने पूर्व सीएम हरीश रावत समेत कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत औऱ एक पत्रकार पर मुकदमा दर्ज किया. जिसके बाद हरीश रावत की प्रतिक्रिया सामने आई है. पूर्व सीएम हरीश रावत ने फेसबुक पोस्ट के जरिए केंद्र सरकार को घेरा औऱ जुबानी हमला किया. हरीश रावत ने सीधे पीएम मोदी पर वार किया.

हरीश रावत की पोस्ट

अन्ततः CBI ने FIR दर्ज कर दी है, मैंने PE के वक्त भी सहयोग किया था, अब भी अग्रणी जांच हेतु प्रस्तुत हॅू। मुझे देश की न्याय व्यवस्था व अपने ईष्ट देवता की शक्ति पर पूरा विश्वास है, आप सब पर भी विश्वास है। षड्यंत्रपूर्वक सरकार कांग्रेस की गिराई जाती है, बकौल उमेश कुमार, षड्यंत्रकर्ताओं के नाम भी तथाकथित स्टिंग में उल्लेख हुये हैं, क्या CBI को इन षड्यंत्रकर्ताओं के विरूद्ध FIR दर्ज नहीं करनी चाहिये? दल-बदल मेरी पार्टी से होता है, क्या दल-बदलूओं व सहयोगी एक्टर्स के खिलाफ जांच नहीं होनी चाहिये? क्या यह दल-बदल #बिना प्रलोभन या लेन-देन के हुआ है? कांग्रेस 19 तारीख को दल-बदलुओं के विरूद्ध अयोग्यता का दावा संवैधानिक अधिकारी के पास दायर कर चुकी थी, जिस पर नोटिस जारी हो चुका था, स्थिति में कोई भी परिवर्तन, चाहे आंशिक हो, हमारे दावे को शून्य कर देता है, अर्थात किसी भी दल-बदलू को वापस लेने का अर्थ, अपने पांव में कुल्हाड़ी मारना होगा। सीधी-सीधी बात है, विधायक खरीदना मेरे लिये घातक था। फिर भी राजा मारे, सर्वपथरे। मोदी जी हैं, तो असम्भव भी सम्भव है। मुझे विश्वास है कि, यह सारा प्रकरण भारत के न्यायिक इतिहास में कई संस्थाओं की परीक्षा का कारक बनेगा। समय किसी के बस में नहीं होता है और समय अनन्तोगत्वा न्याय करता है और मुझे विश्वास है, देर में सही, मेरे साथ भी #न्याय होगा।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top