रुड़की: रुड़की के कलियर में मां ने मां की ममता को शर्मसार करने वाले कारनामें को अंजाम दिया। जिस बच्चे को नौ माह अपनी कोख में पाला। उसे एक मां ने झाड़ियों में फेंक दिया। बच्चे के रोने की आवाज जब झुग्गी में रहने वाले जरीफ को सुनाई दी, तो उससे रहा नहीं गया। उसने बच्चे को उठाया और नहला-घुलाकर पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी।

नवजात बच्चे को कोई गंगनहर के किनारे झाड़ियों में छोड़कर चला गया। पास में ही खेल रहे बच्चों को नवजात के रोने की आवाज सुनाई दी तो उन्होंने लोगों को जानकारी दी। जरीफ नाम के व्यक्ति ने बच्चे नहलाया गया। उसके बाद पुलिस को सौंप दिया।

पुलिस ने बच्चे का मेडिकल कराया और चाइल्ड हेल्प लाइन को जानकारी दी। गंगनहर किनारे झाड़ियों के पास झुग्गी में रहने वाले कुछ बच्चे खेल रहे थे। इस दौरान बच्चों को झाड़ियों में से किसी के रोने की आवाज सुनाई दी। रोने की आवाज सुनकर बच्चों ने जानकारी अपने परिजनों को दी। जानकारी मिलने पर झुग्गी में रहने वाले जरीफ मौके पर पहुंचे और झाड़ियों में देखा तो एक नवजात पड़ा था। इससे पहले भी कलियर में इस तरह की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top