काशीपुर : काशीपुर में स्थित एक फैक्ट्री के जीएम से 20 लाख की ठगी में महिला समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है जबकि 2 आरोपी अभी भी फरार हैं. पुलिस ने आरोपियों के पास से आठ लाख रुपये और सामान बरामद किया है. पुलिस बाकी दो फरार आरोपियों की तलाश में जुट गई है.

आपको बता दें कि मुरादाबाद रोड हरियावाला स्थित सूर्या रोशनी फैक्ट्री के जीएम (अकाउंटेंट) राजीव सिंघल ने कुंडा थाने में ठगी की तहरीर दी थी. जीएम ने पुलिस को बताया था कि 20 फरवरी को उनके मोबाइल पर एक महिला का फोन आया। महिला ने अपना नाम रितु बताते हुए खुद को इनकम टैक्स अधिकारी बताया और कहा कि उनकी टीम ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों पर छापे मार रही है। राजीव के अनुसार महिला ने कहा कि इन मार्केटिंग कंपनियों से ट्रांजेक्शन करने वाले उपभोक्ताओं के यहां भी छापे मारे जा रहे हैं।

एक एक कर के आए फोन और लुट गए 20 लाख रुपये

पीड़ित ने बताया कि महिला ने राजीव को सूर्या रोशनी फैक्ट्री में भी छापे मारने की चेतावनी दी। राजीव के अनुसार अगले दिन विवेक अग्निहोत्री नाम के आदमी ने फोन किया। उसने भी खुद को इनकम टैक्स अधिकारी बताकर छापे की बात दोहराई। व्यक्ति ने छापे रुकवाने के नाम पर एक लाख रुपये मांगे। राजीव के अनुसार कंपनी की प्रतिष्ठा को देखते हुए उन्होंने एक लाख रुपये बताए गए खाते में ट्रांसफर करवा दिए, लेकिन दो दिन बाद फिर किसी राहुल नाम के व्यक्ति का फोन आया। उसने भी खुद को आयकर अधिकारी बताकर तीन लाख रुपये खाते में डलवाए। इसी तरह कई बार में राजीव से 20 लाख 76 हजार 200 रुपये ठग लिए गए।

माल बरामद

पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर रावतपुर जिला कानपुर यूपी निवासी जैनब परवीन पत्नी आदिल, ऋषि वाजपेयी निवासी मास्टर कॉलोनी महोली सीतापुर यूपी को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों इंद्रापुरम गाजियाबाद में रह रहे थे। पुलिस ने दोनों से 10 मोबाइल फोन, तीन लैपटॉप, 23 पहचान पत्र, तीन पैन ड्राइव, 14 एटीएम, 10 चेकबुक, चार नोट बुक, सात लाख 75 हजार 640 रुपये नकद बरामद किए। इस मामले में दो आरोपी फरार चल रहे हैं। एसओ कुंडा राजेश यादव ने बताया कि उक्त लोग नाम बदलकर ठगी करते हैं। गिरफ्तार जैनब ने अलका जबकि ऋषि ने बृजेश के नाम से फैक्ट्री जीएम को फोन किया था।

 





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top