चंपावत: रोडवेज की बस के ब्रेक अचानक फेल हो गए, जिससे बस नियंत्रण से बाहर हो गई। चालक के काफी प्रयास के बावजूद बस के ब्रेक नहीं लग पा रहे थे और ना कोई सुरक्षित जगह मिल पा रही थी। चालक ने धैर्य नहीं खोया और बस को पहाड़ी की ओर लेजाकर टकरा दिया, जिससे बस में सवार 40 यात्रियों की जान बच गई। घटना शनिवार देर शाम की है। लोगों ने बस चालक की जमकार सराहना की।

बताया जा रहा है कि लोहाघाट से दिल्ली जा रही लोहाघाट डिपो की बस टनकपुर-पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग पर तिलौन के पास ही पहुंची थी कि बस के ब्रेक फेल हो गया। मुश्किल ये थी कि बस ढलान पर थी, जिससे वो काफी तेजी से आगे बढ़ रही थी। इससे बस सवार भी घबरा गए।

चालक पुष्कर भट्ट ने बस में सवार सवारियों को मजबूती से सीटों को पकड़ने के लिए कहा और उनका हौसला भी बढ़ाया। उन्होंने किसी तरह बस को खाई में जाने से बचाते हुए पहाड़ी पर टकरा दिया, जिससे बस रुक गई। बस रुकने के बाद सभी यात्री सुरक्षित बाहर निकाले गए और बार में दूसरी बस से दिल्ली भेजे गए।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top