टिहरी गढ़वाल : नगर पंचायत चमियाला में औषधि दान पेटी को लोगों ने कूड़ादान बना डाला और साथ ही औषधि दान पेटी को नाले के ऊपर सजाकर भी रखा गया है.

जी हां नगर पंचायत चमियाला के वार्ड 07 में लगाये गए औषधि दान पेटी और शौचालय की स्थिति बदहाल है. औषधि दान पेटी को कूड़ा दान बनाकर गंदे नाले के पानी के ऊपर सजाया गया है जिससे साफ पता चलता है कि स्वास्थय़ विभाग जनता के स्वास्थय के प्रति कितना जागरुक है. इतना ही नहीं चमियाला में नालियों की बदहाल स्थिति भी बदहाल है आए दिन गंदा पानी सड़कों में बहकर आ जाता है जैसे मानों सड़क नहीं तालाब हो।

औषधि दान पेटी और शौचालय की स्थिति बदहाल

मिली जानकारी के अनुसार नगर पंचायत चमियाला के वार्ड 07 में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेलेश्वर के मुख्य द्वार पर लागये गए औषधि दान पेटी और शौचालय की स्थिति बदहाल है। औषधि दान पेटी औषधि के दान के लिए लगाई गई थी लेकिन उसे कूड़ेदान में तब्दील कर दिया गया. नगर पंचायत चमियाला और सामुदायिक स्वाथ्यय केंद्र की बेरुखी जिस कदर इस औषधि केंद्र की ओर है वह निश्चित तौर एक बात की ओर इशारा कर रहा है कि केवल सरकारी पैसों को ठिकाने लगाने के लिए यह सब ख़रीदा गया है जनता के स्वास्थय से इनको कोई मतलब नहीं।

पीएम मोदी के अभियान को किया तार-तार

अगर बात अस्प्ताल के गेट पास बनाये गए शौचालय की करें तो उसकी स्थिति अति दयनीय बनी हुई है. उसकी बुनियाद तक उखड़ने को है. सरकार जनता को सुविधा देेने के लाख दावे करती है लेकिन सच्चाई ये तस्वीरें बयां कर रही है. पीएम मोदी की पहल हर घर शौचालय औऱ सफाई अभियान को तार तार करने का काम किया गया. शौचालय को देखिए गेट टूटा पड़ा है और नलके टूटे फूटे है, साफ सफाई की व्यवस्था तार तार है। रोजाना इस अस्प्ताल में कई मरीजों और उनके परिजनों का आना जाना होता है बावजूद इसके ना तो अस्प्ताल प्रशासन ने, ना ही नगर पंचायत चमियाला के अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि ने इस बात की कोई खबर लेनी चाही।

सरकारी पैसौं को लगाया जाता है ठिकाने

अगर किसी ने भी इसकी परवाह की होती तो वह खबरों का हिस्सा नही होता बल्कि लोगों की सहुलतों का हिस्सा होता। लेकिन जिस तरह से जनता के पैसों को, सरकारी पैसों को ठिकाने लगाने का काम किया जाता है वो राज्य के लिए राज्य की जनता के लिए नुकसानदायक है. भारी भरकम रकम खर्च कर इन औषधि दान पेटी को लाया गया लेकिन दुखद है कि ये लोगों के ज्यादा काम नहीं आया।

अगर जल्द ही इस पर ध्यान नहीं दिया गया तो सरकारी धन जनता का पैसा यूं ही लुटता बरबाद होता रहेगा और सरकार और सरकार के नुमाइंदे इस खैर खबर लेने नहीं आएंगे. इसलिए इसके लिए अब जनता को भी जागरुक होने की जरुरत है और आगे आकर काम करने की जरुरत है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top