देहरादून : हरीश रावत ने एक बार फिर से गैरसैंण में सत्र कराने को लेकर सीएम त्रिवेंद्र रावत पर कड़ा प्रहार किया. हरीश रावत ने फेसबुक वॉल पर एक लंबी चौड़ी पोस्ट लिखी है और त्रिवेंद्र सरकार को गैरसैंँण में सत्र न करने को लेकर जमकर घेरा.

हरीश रावत ने पोस्ट शेयर करते हुए सीएम त्रिवेंद्र रावत से सीधा सवाल किया है किअगर देहरादून में ठंड़ बढ़ गई तो क्या आप दिल्ली के उत्तराखंड भवन में सत्र कराएंगे.

हरीश रावत की पोस्ट

गैरसैंणिया_ठंड……..आज_कल का बड़ा समाचार है, गैरसैंण में उत्तराखण्ड के विधायकों को  ठंड लग जाती है। यह सूत्र वाक्य माननीय_मुख्यमंत्री, श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत जी के श्रीमुख से उद्भाषित हुआ है। कुछ पत्रकारों ने श्री त्रिवेन्द्र रावत जी से पूछा कि, क्या आप गैरसैंण में कोई सत्र नहीं करवायेंगे, उन्होंने वही सहजता से कहा कि, हमारे विधायकों को गैरसैंण में ठंड_लग_जाती है। उत्तराखण्ड का 75 प्रतिशत से अधिक भू-भाग गैरसैंण जैसा या गैरसैंण से भी अधिक ठंडा व कठिन है। सारे उत्तराखण्डी प्रबुद्धजन यूं ही पलायन-पलायन कह रहे हैं, कारणों को खोजने में मगज पच्चिसी कर रहे हैं। विद्धुतजनों का आयोग बनाकर पलायन के कारण व समाधान_ढूंडे जा रहे हैं। करोड़ों रूपया इस महान दायित्व के निर्वहन में खर्च हो रहा है। उत्तराखण्ड के यश्स्वी पुत्र रैबार के आयोजन में जुट रहे हैं। सबकी वाणी पलायन के दर्द से कराह रही है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top