काशीपुर: देश में तीन तलाक को लेकर सख्त कानून बनाया गया है। बावजूद तीन तलाक के मामला रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। तीन तलाक का ताजा मामला काशीपुर में सामने आया है। मामला बेहत खतरनाक है। महिला के पति ने दहेज में कार और पांच लाख नहीं देने पर तीन तलाक देकर विवाहिता को चलती कार से बाहर फेंक दिया। पुलिस ने पति समेत ससुराल पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ तीन तलाक कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

काशीपुर के समोदिया थाना क्षेत्र स्वार निवासी खलील अहमद की बेटी मेहर जहां का निकाह छह साल पहले सरबरखेड़ा काशीपुर के हाजी मसीतुल्ल के बेटे फरीद अहमद के साथ हुआ था। आरोप है कि दहेज में पांच लाख रुपये और कार न देने पर पति फरीद अहमद, सास कन्नीज बेगम, नंद सबनम बी, ननदोई रईस अहमद, जेठ नफीस अहमद उत्पीडन करते थे। 18 अप्रैल 2019 को ससुराल वालों ने लात-घूंसों से विवाहिता को बुरी तरह पीटा।

उसके बाद उसे कार में बैठाकर समोदिया गांव के निकट तीन तलाक बोलकर चलती कार से धक्का देकर फेंक दिया। वो यहीं पर नहीं रुके और हाल में ही फिर उसके साथ मारपीट कर दी। पीडिता की शिकायत पर पुलिस ने मेहरजहां की तहरीर पर पति, सास, ननद, ननदोई और जेठ के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top