राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कांगेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनेक परिवार पर एसपीजी (विशेष सुरक्षा दल) की सुरक्षा हटाने के फैसले पर कड़ा विरोध जायर किया है. दोनों नेताओं समेत अन्य काग्रेंस नेता के साथ कांग्रेस पार्टी के प्रदेश मुख्यालय से राजभवन तक विरोध प्रदर्शन रैली निकाली. इस रैली में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के फैसले पर कड़ी आलोचना जताई है.

रैली को संबोधित करते सचिन पायलट ने कहा , कांग्रेस पार्टी सत्ता में रहे या विपक्ष में हमेशा जनता के साथ खड़ी रहती है. जनता के मुद्दों को उठाने के लिए अलग सड़क पर उतर कर प्रदर्शन भी करने की नौबत आए तो हम सब इसमें भी उनके साथ खड़े रहेगें. जनता के न्याय दिलाना और उनके परेशानियों को खत्म करना यही कांग्रेस की राजनीति है. युवाओं की बेरोजगारी का मुद्दा हो या किसानों की बदहाली का, कांग्रेस ने उनके पक्ष में आवाज उठाकर उन्हें न्याय दिलाने के लिए हमेशा काम किया है.

हम जनता के साथ खड़े है और जनता हमारे साथ है. उन्होंने कहा, केंद्र सरकार विद्वेष की राजनीति को बढ़ावा दे रही है और गांधी परिवार को मिली एसपीजी सुरक्षा हटाकर उनकी सुरक्षा के साथ समझौता किया गया है. पूरा देश जानता है कि इस परिवार के दो – दो प्रधानमंत्रियों ने आतंकवाद से लड़ते हुए देश के लिए शाहदत दीउन्होंने कहा कि मोदी सरकार की नीतियों के कारण देश की अर्थव्यवस्था गढ्ढे में गिरती नजर आ रही है और बेरोजगारी चरम सीमा पर पंहुच रही है.

बीजेपी की गलत नीति से हो रहा लोगों को नुकसान: गहलोत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, देश बीजेपी सरकार की गलत नीतियों के कारण मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. नौजवानों को नौकरियां नहीं मिल रही है और किसान मुद्दा को नजरअदांज के कारण किसान बेहाल हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी के पास न कोई नीति है और न कोई विचारधारा है, उनका सिर्फ उद्देश्य सत्ता पर कब्जा करना होता है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top