कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महत्वपूर्ण रणनीति व अंदरूनी चीजों के लीक होने से बचने के लिए वरिष्ठ नेताओं को बैठक में मोबाइल फोन न लेकर आने की हिदायत दी है. यह जानकारी सोमवार को सूत्रों ने दी. सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी ने भविष्य में होने वाली महत्वपूर्ण कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठकों में भी मोबाइल फोन लेकर आने पर रोक लगाने का फैसला किया है.

एक सूत्र ने कहा, “यह वास्तविक समय की सूचना को लीक होने से रोकने और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को अधिक ईमानदार बनाने के लिए है.”पार्टी सूत्र ने आगे कहा कि यह कदम पार्टी नेताओं द्वारा चर्चा किए जा रहे विषयों की गोपनीयता सुनिश्चित करेगा.

सोनिया ने शनिवार को आर्थिक मंदी व क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी (आरसीईपी), किसान संकट, बेरोजगारी और अन्य मुद्दे पर पांच से 15 नवंबर के बीच होने वाले पार्टी के 10 दिवसीय योजनाबद्ध आंदोलन की रणनीति तैयार करने के लिए बैठक बुलाई थी. इस बैठक में पार्टी महासचिव, राज्य प्रभारी और अन्य नेता शामिल हुए.

कांग्रेस के एक सूत्र का कहना है कि पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों की बैठक के दौरान यह देखा गया कि जानकारी लीक हुई है. यहां तक कि पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं को बैठक के दौरान अपने फोन को प्रयोग करते हुए भी देखा गया.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top