महाराष्ट्र में सियासी संकट के बीच एनसीपी ने बड़ा बयान दिया है. दरअसल प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लागू किए जाने के बाद से ही शिवसेना,एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन को लेकर चल रहे कयासों पर विराम लगने की बात सामने आ रही थी. लेकिन बुधवार को एक बार फिर एनसीपी ने बैठक की और इसके बाद एनसीपी चीफ शरद पवार का बड़ा बयान सामने आया.

शरद पवार ने कहा है कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए अभी हमारे पास काफी वक्त है. उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि वे अपनी सत्ता का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं. यही नहीं शरद पवार ने ये भी कहा है कि अभी सबकुछ खत्म नहीं हुआ है. प्रदेश में सरकार बनाने के लिए हमारे पास काफी वक्त है. उम्मीद है कि हम मिलकर प्रदेश को स्थिर सरकार जरूर देंगे.

आपको बता दें कि मंगलवार को दिनभर चले घटनाक्रम के तहत राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने केंद्र सरकार के सलाह लेकर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश की, जिसे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंजूरी दे दी. इसके बाद प्रदेश में मौजूदा फडणवीस सरकार का कार्यकाल भंग करके राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया.

राज्यपाल के इस फैसले के खिलाफ शिवसेना ने मोर्चा खोल दिया और सुप्रीम कोर्ट का रुख किया. शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी का कहना है कि राज्यपाल ने बीजेपी को तो 48 घंटे का वक्त दिया जबकि हमें 24 घंटे की वक्त भी नहीं मिला. ऐसे में हमारे साथ धोखा किया गया.

बताया जा रहा था कि बुधवार को शिवसेना सुप्रीम कोर्ट में राष्ट्रपति शासन के खिलाफ याचिका दायर करेगी, लेकिन बुधवार को शिवसेना ने भी अपना रुख साफ कर दिया. शिवसेना की ओर से बयान आया कि अब बुधवार को वे सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर नहीं करेंगे.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top