देहरादून: एसएसपर अरुण मोहन जोशी ने बाहरी क्षेत्रों से शहर में रात को आने वाले वाहनों और शहर में घूमने वाले वाहनों की चेकिंग के निर्देश दिए थे। एसएसपी ने सभी चैकी और थाना प्रभारियों को गंभीरता से काम करने की हिदायद दी थी, लेकिन जब खुद एसएसपी रात को निरीक्षण पर निकले तो, तैनाती की पोल खुद गई। दारोगा और कांस्टेबल सड़क किनारे आग तापते और आराम फरमाते नजर आए, जिनको एसएसपी ने लाइन हाजिर कर दिया।

शहर में बाहर से आने वाले और संदीग्ध रूप से घूमने वाले वाहनों और व्यक्तियों की चेकिंग करने और ऐसे लोगों को थाने लाकर आवश्यक पूछताछ करने के निर्देश दिये गये थे। इसको लेकर एसएसपी ने देर रात नगर क्षेत्र में नियुक्त पुलिस गस्त, पिकेट और बैरियर का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान थाना प्रेमनगर के प्रेमनगर चैक पर पिकेट ड्यूटी पर तैनात दारोगा नितेन्द्र शर्मा, कांस्टेबल प्रदीप कुमार और दिलबर सिंह को ड्यूटी के दौरान सड़क के किनारे बैठे रहने और आने-जाने वाले वाहनों की चेकिंग नहीं करने पर लाइन हाजिर कर दिया।

साथ ही समस्त थाना प्रभारियों को हिदायद दी कि अपने अधीनस्त नियुक्त अधिकारी और कर्मचारियों को इस बात से भली-भांति अवगत करा दें कि ड्यूटी पर इस प्रकार की लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं कि जाएगी। लापरवाही बरतने वाले कर्मियांे के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जायेगी। दूसरी बार गलती पाये जाने पर थाना प्रभारी की जिम्मेदारी तय की जाएगी।

 





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top