देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को हिम ज्योति स्कूल देहरादून में बच्चों को कृमि मुक्ति की दवा खिला कर राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पिछले वर्ष लगभग 30 लाख बच्चों को कृमि मुक्ति की दवा खिलाई गई थी।

इस वर्ष 10 फरवरी को लगभग 43 लाख बच्चों को कृमि मुक्ति की दवा खिलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि इसमें स्कूलों की बहुत बड़ी भूमिका रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य हैं। देश के बच्चे स्वस्थ रहेंगे तो देश का भविष्य उज्ज्वल होगा। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के माध्यम से प्रदेश भर के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में कृमि मुक्ति की दवा खिलाई जाएगी।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन देशभर के सभी स्कूलों में आंगनवाड़ी में फरवरी माह में किया जाता है। किसके अंतर्गत सभी स्कूलों एवं आंगनवाड़ियों में 1 से 19 साल के बच्चों को कृमि नियंत्रण के दवाई खिलाई जाती है। इससे बच्चों का स्वास्थ्य बेहतर, पोषण के स्तर में बढ़ोतरी के साथ ही स्कूल में बच्चों की उपस्थिति में बढ़ोतरी हो सकेगी।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top