चमोली:ऑलवेदर रोड का निर्माण लोगों के लिए आफत बना हुआ है। निर्माण कार्य से सड़क भले ही चैड़ी हो रही हो, लेकिन आने वाले लसमय के लिए बड़ी मुसीबतें भी खड़ी कर रहा है। बदरीनाथ हाईवे पर हुए भारी भूस्खलन से हाईवे का बड़ा हिस्सा ध्वस्त हो गया। भूस्खलन से तीन मकान जमींदोज हो गए। जबकि तीन वाहन मलबे में दब गए। पूरी पहाड़ी को टूटता देख कई लोगों ने बमुश्किल भागकर अपनी जान बचाई।

ऑलवेदर रोड के तहत बृहस्पतिवार शाम करीब पांच बजे नगर पंचायत नंदप्रयाग के झूलाबगड़ वार्ड के पास पहाड़ी से कटिंग की जा रही थी, कि तभी पहाड़ी से भूस्खलन हुआ।भारी मात्रा में बोल्डर और मलबा बदरीनाथ हाईवे पर आ गिरा और हाईवे 50 मीटर तक ध्वस्त हो गया। एनएच के नीचे बने पर्यावरण मित्रों के तीन मकान भी जमींदोज हो गए, जबकि एक मकान को आंशिक नुकसान पहुंचा है। बदरीनाथ हाईवे पर नंदप्रयाग के पास भूस्खलन होने से नंदप्रयाग देवखाल मोटर मार्ग बंद हो गया। जिससे करीब एक दर्जन से अधिक गांवों का मार्ग बंद हो गया है। मौके पर काम कर रही एक एलएनटी मशीन मलबे के नीचे दब गई जबकि चालक ने  किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top