हरिद्वार के पथरी क्षेत्र से भाजपा को झटका देने वाली खबर है। जी हां हरिद्वार जिले के पथरी क्षेत्र की एक दुष्कर्म पीड़िता ने भाजपा विधायक स्वामी यतीश्वरानंद पर बड़ा आऱोप लगाया है। दुष्कर्म पीड़िता का आऱोप है कि भाजपा विधायक स्वामी यतीश्वरानंद दोषियों को बचा रहे हैं। इतना ही नहीं दुष्कर्म पीड़िता ने 20 फरवरी को मुख्यमंत्री आवास पर धरना देने की चेतावनी भी दी है। बता दें कि दुष्कर्म के बाद पीड़िता ने बच्चे को जन्म दिया है औऱ पीड़िता ने उसी बच्ची के साथ सीएम आवास के बाहर धरना देने की चेतावनी दी है।

विधायक यतीश्वरानंद पर आरोप

दुष्कर्म पीड़िता का आऱोप है कि हरिद्वार ग्रामीण विधायक यतीश्वरानंद के इशारों पर सारा खेल खेला जा रहा है। विधायक के इशारों पर ही जांच सीबीसीआईडी को सौंपी गई है। आऱोप है कि पीड़िता पर लगातार समझौता करने का दबाव बनाया जा रहा है।

पुलिस ने गंभीरता से नहीं सुनी थी बात

बता दें कि एक प्रेस वार्ता कर दुष्कर्म पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उसी के गांव का एक व्यक्ति ने उसे पति का एक्सीडेंट होने की बात कहकर साथ ले गया और उसको बंदी बना लिया गया। पीड़िता ने आऱोप लगाया है कि इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया गया। बीते 29 जून को उसने आऱोपियों के जाल से निकलने के लिए पुलिस से मदद मांगी लेकिन पुलिस ने टालमटोल किया औऱ फिर एक आरोपी चंगेज को गिरफ्तार किया। लेकिन अन्य आरोपी मुबारिक, शबनम और अन्य आऱोपियों को गिरफ्तार करने की जगह उस पर समझौता करने का दबाव बनाया जा रहा है।  आरोप लगाया है कि ये सब भाजपा विधायक यतीश्वरानंद के कहने पर हो रहा है।

वहीं बता दें कि दुष्कर्म पीड़िता के पिता ने भी सीबीसीआईडी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. पिता का कहना है कि सीबीसीआईडी ने उन्हें धमकाया। उन्हें भी किसी गड़बड़ी की आशंका है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top